+

एशिया की सबसे बड़ी मस्जिद, जहां महिलाएं भी पढ़ती हैं नमाज

यदि कोई आपसे पूछे की एशिया की सबसे बड़ी मस्जिद कहां पर है। तो इसका जवाब है भारत में। आपको बता दें की भारत के भोपाल शहर में एशिया की सबसे बड़ी मस्जिद है। इस मस्जिद का नाम "ताजुल मसजिद" है। यह भारत की सबसे बड़ी तथा एशिया की दूसरी सबसे बड़ी मस्जिद है। इसका दरवाजा बहुत विशाल है। यहां पर गैर मुस्लिम लोगों के जानें पर कोई रोकटोक नहीं है। दिल्ली की जामा मस्जिद की तरह ही आप यहां भी आसानी से प्रवेश कर सकते हैं। इस मस्जिद को "ताजुल मस्जिद" कहा जाता है, जिसका अर्थ है "मस्जिदों का ताज" | 

प्रतीकात्मक

 

महिलाएं भी पढ़ती हैं नमाज - 

वैसे तो इस्लाम में महिलाओं के मस्जिद में नमाज पढ़ने को वर्जित माना जाता है। लेकिन इस मंस्जिद की ख़ास बात यह है की यहां पर महिलाएं भी नमाज पढ़ सकती हैं। महिलाओं के नमाज पढ़ने के लिए इस मस्जिद में एक ख़ास हिस्सा बनाया गया है। जिसमें बैठकर महिलाएं नमाज अदा कर सकती हैं। शाम की नमाज के बाद में महिलाओं को मस्जिद परिसर में रहने की इजाजत नहीं है। आपको बता दें की इस मस्जिद का निर्माण भोपाल की महिला शासक शाहजहां बेगम के समय में हुआ था। शाहजहां बेगम दिल्ली के शहंशाह बहादुरशाह जफ़र के समकालीन थीं।

प्रतीकात्मक

 

धन के आभाव में उस समय इस मस्जिद का निर्माण पूरा नहीं हो सका था। इसके बाद 1971 में भारत सरकार ने इस मस्जिद के निर्माण का कार्य शुरू कराया तथा 1985 में यह कार्य पूरा हो गया था। इस मस्जिद में प्रतिवर्ष इत्जिमा किया जाता है। जिसमें लाखों लोग शामिल होते हैं। इस मस्जिद के साथ में मदरसा भी बना हुआ है। मदरसे में पढ़ने तथा रहने के लिए एक हजार कमरे बने हुए हैं। मस्जिद के इस मदरसे में हजारों छात्र दीनी शिक्षा प्राप्त करते हैं। आप इस मस्जिद तक आसानी से पहुंच सकते हैं। भोपाल के रेलवे स्टेशन से यह मस्जिद करीब 5 किमी की दूरी पर है। रेलवे स्टेशन से आप ऑटो या बस से इस मस्जिद तक आसानी से पहुंच सकते हैं।