+

रात में हुए मोबाइल ब्लास्ट से जिंदा जला व्यक्ति, आप न करें यह गलती

मोबाइल के ब्लास्ट होने की कई घटनाएं अब तक देश दुनियां में सामने आई हैं। हालही में यह घटना भारत के राजस्थान में भी घटी है। राजस्थान के चित्तौड़गढ़ में घटित हुई इस घटना में एक 60 वर्षीय व्यक्ति जिंदा जल गया। चित्तौड़गढ़ के निवासी किशोर सिंह की उम्र 60 वर्षीय थे। रात को सोते समय उसका मोबाइल पास में ही रखा हुआ था जिसमें अचानक ब्लास्ट हो गया। पहले किशोर सिंह के कपड़ो में आग लगी तथा उनका शरीर काफी ज्यादा जल गया। इस कारण उनकी मौत हो गई। असल में किशोर सिंह जब सो रहे थे तब मोबाइल उनके बनियान की जेब में रखा हुआ था। देर रात करीब 2.30 बजे उनके मोबाइल की बैटरी में ब्लास्ट हो गया था। इस कारण उनके कपड़ो में भी आग लग गई तथा उनका शरीर आग से झुलस गया। इसके बाद में उनको अस्पताल ले जाय गया जहां डाक्टरों ने उनको मृत घोषित कर लिया। 

प्रतीकात्मक

ध्यान रखें ये सेफ्टी टिप्स - 

रात को कभी भी मोबाइल को तकिये के नीचे रख कर न सोएं। ऐसा करने से फोन का टेम्प्रेचर बढ़ जाता है तथा फोन हीट करने लगता है। आप अपने मोबाइल को शर्ट या स्वेटर की जेब में न रखें। ऐसा करने से रेडिएशन का ख़तरा बढ़ जाता है तथा ब्लास्ट होने के बाद में ये कपड़े बहुत जल्दी आग पकड़ लेते हैं। कभी भी डुप्लीकेट चार्जर या बैटरी का इस्तेमाल अपने मोबाइल में न करें। ऐसा करने से मोबाइल ब्लास्ट होने की संभावना बढ़ जाती है। मोबाइल को चार्ज करने के लिए आप उसको किसी ऐसे स्थान पर न रखें जहां सूरज की सीधी रौशनी पड़ती हो। ऐसा करने से आप बचें। यदि आप इन टिप्स को अपनाते हैं तो मोबाइल ब्लास्ट होने की घटना से आप आसानी से बच सकते हैं।