+

मिलिए चैबीसो घंटे न्यूज पढ़ने वाले बनावटी एंकर से

प्रतीकात्मक

अर्टिफिशियल इंटेलिजेंस(एआई) का कमाल ही है कि अब टीवी पर एंकर चैबीसो घंटे न्यूज पढ़ने लगा है। यह तकनीकी चमत्कार चीन की सरकारी समाचार एजेंसी शिन्हुआ द्वारा किया गया है। उस बनावटी एंकर को देखकर यकीन करना मुश्किल हो जाएगा कि समाचार टीवी चैनल पर न्यूज पढ़ने वाला व्यक्ति असली है या फिर कोई बनावटी रोबोट। न्यूज एजेंसी ने दर्शकों के सामने 8 नवंबर को एआई आधारित एक आभासी न्यूज एंकर पेश किया, जो एआई टेक्नोलॉजी पर काम करता है।

यह एंकर पूरी तरह से एक पेशेवर न्यूज एंकर की तरह खबरें पढ़ सकता है। इसे अत्याधुनिक जीवनशैली के लिए आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस की उपस्थिति का नया अध्याय कहा जा सकता है। अंग्रेजी बोलने वाला ये न्यूज रीडर अपनी पहली रिपोर्ट प्रस्तुत करते हुए बोलता है- ‘‘हैलो, आप देख रहे हैं इंग्लिश न्यूज कार्यक्रम।... मैं आपको सूचनाएं देने के लिए लगातार काम करूंगा, क्योंकि मेरे सामने लगातार शब्द टाइप होते रहेंगे। मैं आपके सामने सूचनाओं को एक नए ढंग से प्रस्तुत करने वाला अनुभव लेकर आऊंगा। ’’

इस तकनीक को विकसित करने के लिए शिन्हुआ को चीनी सर्च इंजन ‘सोगो’ की मदद मिली है। शिन्हुआ के अनुसार वर्चुअल न्यूज एंकर उनकी वेबसाइट और सोशल मीडिया चैनल के लिए लगातार 24 घंटे भी काम कर सकता है। और तो और, इसपर ज्यादा खर्च भी नहीं आएगा। साथ ही समय-समय पर ब्रेकिंग न्यूज भी सुनने को मिलेगा। 

इसके लिए तकनीकी विशेषज्ञों ने असली इंसान के 3डी मॉडल का इस्तेमाल किया है। इस तरह से बने  आभासी एंकर के हावा-भाव, बोलने की शैली और आवाज का संतुलन इस तरह बनाया गया है कि दिखने में यह हूबहू इंसानों जैसा लगे। इसके लिए  कपड़ों से लेकर होंठों के हिलने जैसी छोटी-छोटी बातों पर भी बारीकी से ध्यान दिया गया है।  एआई-बेस्ड दो एंकरों ने चीन के टेलीवीजन चैनलों पर न्यूज बुलेटिन पढ़कर इसकी शुरुआत कर दी। इसकी आवाज पुरुष की है। इसे देखकर कह सकते हैं कि विश्व में पहली बार रोबोट ने न्यूज पढ़ी और यह दुनिया का पहला एआई न्यूज एंकर है।

इस एंकर ने अपने प्रदर्शन के दौरान न्यूज के इन्ट्रो में कहा कि वो दुनिया के सबसे बड़ी जनसंख्या वाले देश के कोने-कोने से हर वक्त न्यूज इकट्ठा करेगा और उन्हें जानकारी देने के लिए सातों हफ्ते और चौबीसों घंटे काम करेगा।

कियू हाओ नाम का यह एंकर का एक तरह से डिजिटाइड वर्जन जैसा ही है, लेकिन इंसानी शक्ल में लाल टाई के साथ सूट पहन रखा था. एंकर थोड़ा मानवीय दिखे, इसके लिए उसमें सिर हिलाने, पलकें झपकाना और भौंहे उठाने जैसे मूवमेंट डाले गए हैं। इस एंकर ने अपने डेब्यू में कहा, 'मैं 365 दिन, 24 घंटे आपके साथ रह सकता हूं. इतना ही नहीं मुझे कॉपी करके दूसरी जगहों से न्यूज इकट्ठा करने के लिए भेजा जा सकता है।

प्रतीकात्मक

शिन्हुआ ने इंग्लिश में न्यूज पढ़ने के लिए भी एक दूसरा एआई न्यूज एंकर लॉन्च किया है। उसे शिन्हुआ के ही दूसरे एंकर झांग झाओ के रूप में बनाया गया है। इस एंकर ने कहा कि वो लोगों को नया न्यूज एक्सपीरियंस अनुभव कराने के लिए उत्साहित है।

 

इन डिजिटल एंकरों को मशीन लर्निंग के जरिए डेवलप किया गया। इनमें फेसियल मूवमेंट और वॉइस स्टिमुलेशन डाले गए। इन्हें असली एंकरों की तरह की भाव-भंगिमाएं दी गईं तथा इन एंकरों ने चीन के एनुअल वर्ल्ड इंटरनेट कॉन्फ्रेंस में डेब्यू किया। इस कॉन्फ्रेंस में चीन के तकनीकी में भविष्य को लेकर चर्चा होती है। चीन के फ्यूचर प्लान्स को शोकेस किया जाता है।