+

5 साल में पहली बार डॉलर के मुकाबले रुपये को मिला 112 पैसे का उछाल

प्रतीकात्मक

कच्चे तेल की नरमी से भारत के व्यापार घाटा को लेकर चिंता कम हुई है। इसके बीच फायदा ये हुआ कि रुपये के मुकाबले लगातार बढ़ रहे डॉलर की कीमत में 112 पैसे की जोरदार गिरावट दर्ज की गयी। बता दें कि पिछले 5 सालों में डॉलर के मुकाबले रुपये की कीमत में ये एक दिन की सबसे बड़ी उछाल है। इसी के साथ मंगलवार को 1 डॉलर की कीमत 70.44 रुपये पर बंद हुई। यही नहीं अब रुपये में डॉलर के मुकाबले लगातार सुधार नज़र आ रही है। बुधवार को भी डॉलर की कीमत में 50 पैसे की गिरावट पाई गयी। जिसके बाद बुधवार को भी शुरुवाती दौर में डॉलर 69.94 पर खुला था।

प्रतीकात्मक

बताया जा रहा है कि बैंकों और निर्यातकों द्वारा डॉलर की सतत बिकावली हुई है। इससे अमेरिकी फेडरल रिज़र्व की नीतिगत बैठक से पहले ग्लोबल स्तर पर प्रमुख मुद्राओं की तुलना में डॉलर कमजोर हुआ। जिसका सीधे तौर पर रुपये को फायदा हुआ। रुपये की मजबूती और कच्चे तेल के भाव में नरमी के कारण ही स्थानीय शेयर बाजारों में लगातार तेजी का सिलसिला 1 हफ्ते से बना हुआ है। 

ये भी बता दें कि रुपये में 112 अंको का उछाल पिछले पांच सालों में एक दिन की सबसे बड़ी उछाल है। इससे पहले 19 सितम्बर 2013 को रुपये में 161 पैसे का उछाल देखा गया था।