+

अब शुरू होगा 75 रुपये वाला चांदी का सिक्का, सरकार ने की घोषणा

आपने अभी तक किस्से कहानियों में ही सुना होगा कि पहले के समय में सोने-चांदी के सिक्के आम मुद्रा एक रूप में चलते थे लेकिन अब भारत सरकार  इस तथ्य को साकार करने वाली है। 2014 से प्रारंभ हुई बीजेपी की केंद्र सरकार ने कई प्रकार के नए नोट और सिक्के अब तक जारी किये हैं। इसी क्रम में अब केंद्र सरकार चांदी का सिक्का जारी करने वाली है यानि अब आप चांदी के सिक्के को आम मुद्रा की तरह ही सहज रूप से चला सकेंगे। 

नेता जी सुभाष चंद्र बोस की याद में निर्मित होगा सिक्का - 

आपको बता दें की सरकार जिस चांदी के सिक्के कि शुरुआत करने जा रही है। वह नेता जी सुभाष चंद्र बोस की यादगार में शुरू किया जायेगा। बीते मंगलवार को सरकार ने सिक्का जारी करने कि घोषणा की। सरकार और से कहा गया कि नेताजी सुभाष चंद्र बोस ने आज से 75 वर्ष पहले पोर्ट ब्लेयर में तिरंगा फहराया था। इस मौके कि 75 वी वर्षगांठ पर ही सरकार 75 रुपये का सिक्का जारी करेगी और इस संबंध में वित्त मंत्रालय ने अपनी और से अधिसूचना भी जारी कर दी है। वित्त मंत्रालय कि और से जारी कि गई अधिसूचना में कहा गया कि "नेता जी द्वारा पहली बार पोर्ट ब्लेयर में तिरंगा फहराने कि 75 वी वर्षगांठ के अवसर पर 75 रुपये मूल्य का सिक्का जारी किया जायेगा। इस सिक्के का निर्माण सरकारी अधिकार के तहत ढलाई कारखाने में किया जायेगा।   

इस प्रकार का होगा चांदी का सिक्का - 

नेता जी कि याद में जारी किये जाने वाले इस सिक्के का कुल वजन 35 ग्राम होगा। इस सिक्के में 50 प्रतिशत चांदी, निकल और जस्ता 5-5 प्रतिशत और 40 प्रतिशत तांबा होगा। इस सिक्के में नेताजी सुभाषचंद्र बोस की एक तस्वीर होगी, जो सेल्यूलर जेल में तिरंगे को सलामी देते हुए दिखेगी। इस तस्वीर के नीचे "वर्षगांठ" शब्द और साथ में 75 अंक भी प्रिंट किया हुआ दिखाई पड़ेगा। इसके अलावा सिक्के पर अंग्रेजी तथा हिंदी भाषा में "पहला तिरंगा फहराने का दिन" भी छपा होगा। आपको यहां बता दें कि 30 दिसंबर, 1943 को नेता जी सुभाष चंद्र बोस ने सेल्यूलर जेल में पहली बार तिरंगा फहराया था। इसके अलावा पिछले महीने 21 अक्टूबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लाल किले पर तिरंगा फहराया था और नेता जी द्वारा बनाई गई आजाद हिंद फ़ौज की 75 वी वर्षगांठ पर एक पट्टिका का अनावरण किया था।