+

माउंट आबू, रेतीले मैदान के बीच का खूबसूरत Hill Station

राजस्थान एक बहुत ही रोचक राज्य है। अक्सर राजस्थान राज्य का नाम सुनते ही वहां का रेगिस्तान और वहां की तपती गर्मी ख्याल में आती है। इससे हट कर देखें तो  राजस्थान अपने खूबसूरत राजमहलों के लिए भी जाना जाता है। ये राजमहल पर्यटकों के घूमने के लिए बहुत अच्छी जगह बन चुके हैं। लेकिन इन सब के साथ-साथ रेतीला होने के बावजूद राजस्थान अपने खूबसूरत ‘हिल स्टेशन’ के लिए भी बहुत प्रसिद्ध है। राजस्थान का वो हिल स्टेशन है "माउंट आबू" 

      माउन्ट आबू, राजस्थान का एक खूबसूरत सा हिल स्टेशन है। यह अरावली पर्वत का सबसे उच्च शिखर है। यह समुद्रतल से 1220 मीटर की ऊंचाई पर है। यह राजस्थान की रेत में हिल स्टेशन की कमी को सिर्फ पूरा ही नहीं करता बल्कि हर साल लाखों पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित भी करता है। रेतीले मैदान के बीच हरी-भरी पहाड़ियों की खूबसूरती देखते ही बनती है। अब आपको बताते हैं, यहां घूमने वाली जगहों की।

दिलवाड़ा जैन मंदिर: यह 5 मंदिरों का एक समूह है। इन मंदिरों के लगभग 48 स्तम्भों में नृत्यांगनाओं की आकर्तियां बनी हुई हैं। इस जैन मंदिर की कलात्मक कारीगरी पर्यटकों के आकर्षण का केंद्र है। इस मंदिर की बारीक नक्काशी इस मंदिर की खूबसूरती को बढाती है।

गुरु शिखर: यह पर्वत का सर्वोच्च शिखर है। समुद्रतल से इसकी ऊंचाई 1722 मीटर है। यहां पर त्रिदेव का मंदिर है, जहां से चारों तरफ का अत्यंत मनोरम दृश्य दिखाई देता है।

नक्की झील: यह माउंट आबू की सबसे खूबसूरत जगह में से एक है। प्राकृतिक दृश्यों से भरपूर इस झील में बोटिंग का लुफ्त भी उठाया जा सकता है। महात्मा गाँधी की अस्थियां इसी झील में विसर्जित की गयी थी, इसी कारण झील के किनारे ‘गाँधी घाट’ भी बनाया गया है।

सनसेट प्वाइंट: इस जगह से सूर्यास्त का दृश्य बहुत ही खूबसूरत होता है। डूबते हुए सूरज से आसमान में फैली लाल और नारंगी किरणे आसमान को बेहद सुन्दर बना देती हैं। इस दृश्य को देखने के लिए बहुत से लोग यहां आते हैं।

यूनिवर्सल पीस हॉल: यूनिवर्सल पीस हॉल को 'ओम शांति भवन' भी कहा जाता है। यह हॉल 'ब्रह्म कुमारी आध्यात्मिक विश्वविद्यालय' में है। 1983 में इसका निर्माण किया गया था। इस हॉल में एक समय में 5000 लोग बैठ सकते हैं। इस जगह पर आध्यात्मिक और अंतराष्ट्रीय सम्मेलनों के मुख्य कार्य किये जाते हैं।