+

गर्म पानी से नहाने पर भुगतने पड़ सकते हैं ये गंभीर परिणाम

प्रतीकात्मक

सर्दी के मौसम में सभी लोग ठंडे पानी से दूर भागते हैं। लोग अपने हर काम के लिए गर्म पानी का इस्तेमाल करना चाहते हैं। चेहरे को धोने से लेकर स्नान करने तक सभी लोग गर्म पानी का ही इस्तेमाल करते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि सर्दी के मौसम में गर्म पानी का इस्तेमाल आपको हानि भी पहुंचा सकता है। प्रत्येक मानव चाहता है कि उसका चेहरा तथा स्किन खूबसूरत बनी रहे। इसके लिए मानव तरह तरह के काम करते हैं। लेकिन कई बार कुछ ऐसे कार्य भी हो जाते हैं जिनसे आपकी स्किन तथा चेहरे पर नकारात्मक प्रभाव पड़ता है। अतः हम आपको यहां कुछ ऐसी बाते बता रहें हैं जिनका स्नान करते तथा फेसवॉश करते समय आपको ध्यान रखना चाहिए। 

फेसवॉश करते समय न करें गर्म पानी का इस्तेमाल

आपको अपने चेहरे की स्किन को स्वस्थ रखने के लिए प्रतिदिन फेसवॉश करना ही चाहिए। लेकिन सर्दी के दिनों में बहुत से लोग नार्मल वॉटर से फेसवॉश न करके गर्म पानी का इस्तेमाल करने लगते हैं। हम आपको बता दें की यदि आप ऐसा करते हैं तो आपकी स्किन खराब होने की संभावना ज्यादा हो जाती है। अतः अच्छा यह होगा की आप गर्म पानी के स्थान पर गुनगुने पानी का इस्तेमाल करें। 

प्रतीकात्मक

न करें साबुन का इस्तेमाल - 

यदि आप चेहरे को धोने के लिए साबुन का इस्तेमाल करते हैं तो इससे आपकी स्किन सख्त होना सुनिश्चित है। ऐसा करने पर आपकी स्किन डल हो जाती है तथा स्किन की चमक कम हो जाती है। अच्छा यह होगा की आप अपनी स्किन के अनुसार फेसवॉश को चुने तथा उसी से फेसवॉश करें। फेसवॉश के बाद में थोड़ा मॉइश्चराइजर भी चेहरे पर लगाएं।  

इस प्रकार पौछे अपना चेहरा - 

यदि आप चेहरा धोने के बाद में चेहरे को रगड़ रगड़ कर पौछते हैं तो ऐसा करना आपकी स्किन के लिए हानिकारक हो सकता है। अतः चेहरे को तौलिये से न रगड़े बल्कि हल्के से चेहरे को थपकी दें। रगड़ने से आपकी स्किन खराब हो सकती हैं इसलिए चेहरे को न रगड़े। 

प्रतीकात्मक

मेकअप को उतार कर ही सोएं - 

यदि आप मेकअप को बिना उतारे ही सो जाते हैं यह आपकी स्किन के लिए बहुत हानिकारक होता है। आपकी स्किन के रोमछिद्र बंद हो जाते हैं तथा आपकी स्किन सांस नहीं ले पाती हैं। इस कारण आपकी स्किन सूखी दिखाई देने लगती है तथा आपका चेहरा अधिक उम्र का लगता है।

बालों का झड़ना :   ज्यादा गर्म पानी से नहाने से बाल जल्दी-जल्दी झड़ने शुरू हो जाते हैं और साथ में डेंड्रफ ज्यादा आता हैं।

 खुजली :  ज्यादा गर्म पानी से नहाने से त्वचा रूखी सी हो जाती है, उस रूखेपन से खुजली होना स्वाभाविक बात हैं।

प्रतीकात्मक

 आँखों लाल होना – ज्यादा गर्म पानी से नहाने से आँखें लाल हो जाती है, जिससे सामने वाले इंसान को लगता हैं कि ये नशे में धुत हैं। आँखें लाल हो जाने से आँखों में खिंचाव महसूस होने लगता है जिससे आँखों में दर्द होने लगता है।

 स्किन एलर्जी – त्वचा का रूखापन ज्यादा ही गर्म पानी से नहाने से हो जाता है, जिससे रेडनेश और खुजली पैदा होती है। उसके कारण स्किन एलर्जी होने की संभावना बढ़ जाती है।

प्रतीकात्मक

 दिल का दौरा – ज्यादा गर्म पानी से नहाने से दिल के दौरे पड़ने की संभावना बहुत ही ज्यादा होती हैं। जापान में इस बात का एक अध्ययन किया गया था।

 भोजन पचता नहीं है – जब भी हम खाने खाते है तो पेट को उसे पचाने के लिये समय चाहिये, अगर वो समय किसी कारणवश या भूलवश नहीं मिल पता हैं तो खाना नहीं पचता हैं। यदि हम भोजन करने के बाद गर्म पानी से नहा लेते है तो खाने को पचने में बहुत ही ज्यादा समय लग जाता हैं।

 नाखून खराब हो जाना – ज्यादा ही गर्म पानी से नहाने से नाखूनों की बैंड बज जाती हैं। नाखूनों की चमक खोने के साथ-साथ नाखूनों में इन्फेक्शन का खतरा रहता हैं।

 वीर्य और अंडकोश के लिये खतरा – ज्यादा गर्म पानी से नहाने से शुक्राणुओं और अंडाणुओं के बनने की संख्या घटती है, जिससे यौन सम्बन्धी बीमारियाँ होने की संभावना बढ़ जाती हैं।

कफ दोष बढ़ जाता है – जैसे कि हम जानते है की हमारे शरीर में तीन तरह के दोष पाये जाए हैं- वात, पित्त और कफ। सिर और आँखें कफ दोष की श्रेणी में आते हैं। गर्म पानी सिर पर डालने से कफ बढ़ता ही चलता जाता है।