+

सर्दियों में अमृत के सामान है लहसुन का सेवन

लहसुन का प्रयोग भोजन में सबसे ज्यादा किया जाता है। मुख्यतः भोजन का टेस्ट बढ़ाने के लिए इसका यूज भोजन में किया जाता है। इसके अलावा नजला-जुकाम होने पर भी इसका सेवन फायदेमंद होता है। लेकिन लहसुन सिर्फ इन कुछ फायदों तक ही सीमित नहीं है। असल में लहसुन के अन्य बहुत से फायदे हैं। वर्तमान में सर्दी का मौसम चल रहा है। ऐसे में कई प्रकार के छोटे मोटे रोग किसी को भी घेर लेते हैं। यदि आप सर्दी के मौसम प्रतिदिन लहसुन का सेवन करेंगे तो न सिर्फ कई प्रकार के रोगों से बचोगे बल्कि ऐसा करने से आपको कई प्रकार के लाभ भी मिलेंगे। आइये जानते हैं लहसुन के सेवन से मिलने वाले कुछ विशेष लाभों के बारे में। 

1 - एंटीबायोटिक है लहसुन - 

आपको बता दें कि लहसुन में एंटीबायोटिक गुण पाए जाते हैं। यह आपको इंफेक्शन से बचाता है तथा अंदरूनी सूजन और दर्द को भी दूर करता है। यदि आप लहसुन को प्रतिदिन के भोजन में इस्तेमाल करते हैं तो यह एंटीबॉयोटिक दवाओं से भी ज्यादा फायदा पहुंचाता है। 

2 - बढ़ाता है रोग प्रतिरोधक क्षमता - 

लहसुन का प्रतिदिन का सेवन खांसी, जुकाम से लेकर ज्यादा गंभीर रोग होने के जोखिम को कम कर देता है। इसके अलावा यह आपके ब्लड सर्कुलेशन को सही बनाये रखता है। यह ब्लड को पतला करता है जिसके कारण आप कई प्रकार के संभावित रोगों से बचे रहते हैं। 

3 - दिल की बीमारियों में लाभकारी - 

लहसुन का सेवन आपके शरीर में बैड कोलेस्ट्रोरल के लेवल को कम कर देता है। इस कारण से आपका दिल हमेशा स्वस्थ बना रहता है। इसके अलावा हाई ब्लड प्रेशर को दूर करने के लिए लहसुन बहुत लाभकारी है। हाई बीपी के मरीज यदि लहसुन का सेवन करते हैं तो उनको अपना बीपी सामान्य रखने में मदद मिलती है। 

 

4 - गठिया रोग में लाभ - 

लहसुन गठिया रोग में भी बहुत लाभकारी होता है। इसके प्रतिदिन के सेवन से आपको जोड़ो के दर्द में भी लाभ मिलता है। यदि आपको चबाना पसंद नहीं है तो आप खाली पेट सुबह को लहसुन की एक कली को पानी से निगल सकते हैं। 

5 - प्रेग्नेंसी में लाभकारी - 

यदि महिला प्रेग्नेंसी दौरान लहसुन का सेवन नियमित तौर पर करती है तो यह मां तथा बच्चे दोनों के लिए लाभकारी होता है। प्रेग्नेंसी में लहसुन का सेवन होने वाले बच्चे का बजन बढ़ाने में बहुत सहायक होता है। इसके अलावा यदि प्रेग्नेंट महिला को उच्च रक्तचाप कि समस्या रहती है तो उसको किसी न किसी रूप में लहसुन का सेवन नियमित रूप से अवश्य करना ही चाहिए।

=====================================================================