+

अनुपमा सोनी को ‘मिसेज एशिया इंटरनेशनल 2018’ का खिताब

 

एक बहुमुखी प्रतिभाशाली जयपुर की रहने वाली डॉक्टर अनुपमा सोनी ने हाल ही में ‘मिसेज एशिया इंटरनेशनल 2018’ का खिताब जीतकर विश्वव्यापी मंच पर भारत को गर्वान्वित करवाया है। इससे पहले वह ‘मिसेज इंडिया’ और ‘मिसेज राजस्थान’ जैसे दो खिताब हासिल कर चुकी हैं। इसी सिलसिले में उन्होंने अपना अनुभव साझा करने के लिए दिल्ली के कनॉट प्लेस स्थित पीवीआर प्लाजा में आयोजित एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में मीडिया के साथ बातचीत की।

दो बच्चों की मां अनुपमा मिसजे इंडिया बनने के बाद इंटरनेशनल ब्यूटी कॉम्पिटीशन में भारत का प्रतिनिधित्व करने की दिशा में अपनी तैयारी शुरू कर दी थी। इसमें उन्हें सफलता मिली और उन्होंने ‘मिसेज एशिया इंटरनेशनल 2018’ का खिताब के साथ ‘मिसेज फोटोजेनिक’ का सबटाइटल भी जीत लिया।  

अपने अनुभव के बारे में उन्होंने बताया कहा, ‘'यह कई नए अनुभवों, अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिताओं से अलग संस्कृतियों, पृष्ठभूमि, खानपान की आदतों के साथ कई विभिन्नताओं को लेकर चलने का एक अद्भुत अनुभव था।''

उन्होंने बताया,'' प्रतियोगिता के दौरान हम सभी महिलाएं एक इंसान के रूप में एक समान थीं। सबके पास अपनी बातें साझा करने के लिए अलग-अलग कहानियां थीं।’'

थाइलैंड में आयोजित हुई प्रतियोगिता के दरम्यान यात्राओं के बारे में अनुपमा ने बताया, '‘हम सभी प्रतिभागियों कर रायंग के गवर्नर और  'थाईलैंड टूरिज्म' के निदेशक ने स्वागत किया था। हमने इस दौरान स्थानीय क्षेत्रों और शहरों का दौरा किया, ताकि धार्मिक मान्यताओं, उनकी कला और संस्कृति, खानपान की आदतों आदि को जान सकें। हालांकि, यह यात्रा काफी व्यस्तता से भरी थी, क्योंकि पहला दिन एक फोटो शूट था और स्थानीय भोजन का स्वाद लेना था। दूसरा दिन प्रतिभा राउंड का था, जहां मुझे चारी और कलबेलिया नृत्य पेश करने के बाद टॉप थ्री में चुना गया था। सभी दर्शक नृत्य प्रदर्शन और रंगीन वेशभूषा देखकर आश्चर्यचकित हुए।''

उन्होंने आगे बताया,'' टैलेंट राउंड में उस प्रदर्शन ने मुझे इस ताज को जीतने के लिए और अधिक आत्मविश्वास दिया। इस तरह से हर दिन हमें नए राउंड और चुनौतियों का सामना करना पड़ा। छठा दिन नेशनल कॉस्ट्यूम राउंड का था। मेरे लिए, यह एक महान सम्मान और उपलब्धि है, जिसने मुझे एक अंतरराष्ट्रीय मंच पर अपने देश का प्रतिनिधित्व करने का मौका दिया।’'