+

इथोपिया विमान हादसा- किस्मत ने दिया साथ तो विमान हादसे में बच गई जान

बीते रविवार को इथोपिया की राजधानी अदीस अबाबा से नैरोबी के लिए उड़ान भरने के कुछ ही मिनटों बाद इथोपियन एयरलाइंस का एक विमान दुर्घटनाग्रस्त हो गया। उसमें सवार चार भारतीय नागरिकों सहित सभी 157 लोगों की मौत हो गई। स्थानीय मीडिया के मुताबिक, मृतकों में 35 देशों के नागरिक शामिल हैं।

प्रतीकात्मक

 

लेकिन इस विमान का एक यात्री ऐसा भी था जिसका किस्मत ने खूब साथ दिया। वह एयरपोर्ट के प्रस्थान गेट पर कुछ देरी से पहुंचे तो उसे अंदर नहीं जाने दिया। जिस वजह से उसकी अदीस अबाबा से नैरोबी जाने वाली फ्लाइट मिस हो गई। इस शख्स का नाम एंटोनियो मवरोपोलुस है। एंटोनियो मवरोपोलुस का कहना है कि विमान के क्रैश होने के बाद ग्रीस के रहने वाले एक व्यक्ति ने बताया कि अगर वह दो मिनट लेट न होते तो वह क्रैश बोइंग विमान के 150वें यात्री होते। साथ ही उन्होंने कहा "मैं परेशान था क्योंकि किसी ने गेट तक पहुंचने में मेरी मदद नहीं की।"  फ्लाइट क्रैश होने की खबर सुनने के बाद उन्होंने फेसबुक पर एक पोस्ट भी किया। उन्होंने लिखा कि ये उनके लिए सबसे लक्की दिन है। उन्होंने अपनी उड़ान का टिकट भी फेसबुक पर शेयर किया है।

प्रतीकात्मक

 

गैर लाभकारी संगठन इंटरनेशनल सॉलिड वेस्ट के प्रेजिटेंड मवरोपोलुस ने बताया कि उन्हें नैरोबी में होने वाली संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण कार्यक्रम (यूएनईपी) की बैठक में शामिल होना था। जब मुझे एयरपोर्ट के प्रस्थान गेट के अंदर नहीं जाने दिया तो मैं बहुत परेशान हुआ, लेकिन बाद में मैंने भगवान का शुक्रिया किया। न्यूज एजेंसी के अनुसार, राजधानी अदीस अबाबा से करीब 60 किलोमीटर दूर बीशोफ्तू के पास यह विमान क्रैश हुआ है। ये विमान एयरलाइंस ने नवंबर में ही खरीदा था। बता दें कि इथियोपियन एयरलाइन को अफ्रीका की सबसे बड़ी एयरलाइन माना जाता है।