+

घाटी में सेना की कार्यवाई तेज, 21 दिनों में मार गिराए 18 आतंकी

जम्मू-कश्मीर में सुरक्षाबलों का आतंकियों के खिलाफ ऑपरेशन जारी है। आए दिन घाटी में आतंकियों और सुरक्षाबलों के बीच मुठभेड़ की खबरें सामने आ रही हैं। रविवार को भी पुलवामा में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ हुई, जिसमें सुरक्षाबलों ने तीन आतंकियों को मार गिराया। मारे गए इन आतंकियों में जैश-ए-मोहम्मद का डिस्ट्रिक्ट कमांडर मुद्दसिर खान भी शामिल था। 

प्रतीकात्मक

 

बताया जा रहा है कि पुलवामा हमले में आतंकी मुद्दसिर खान का बड़ा हाथ था। पेशे से इलेक्ट्रीशियन मुद्दसिर ने 2017 में जैश-ए-मोहम्मद ज्वाइन किया था। वह आदिल अहमद डार के संपर्क में रहते हुए पुलवामा हमले की साजिश में शामिल था। सेना ने बताया कि पिछले 21 दिन में 18 आतंकियों को मार गिराया है, जिनमें 8 पाकिस्तानी आतंकी शामिल हैं। 

प्रतीकात्मक

 

बता दें कि 14 फरवरी को हुए आतंकी हमले के बाद से ही घाटी में मौजूद सभी जैश के आतंकी सुरक्षाबलों के निशाने पर हैं। पुलवामा में CRPF के काफिले पर हुए आतंकी हमले के बाद सुरक्षाबलों और राज्य पुलिस ने पूरे इलाके में सर्च ऑपरेशन तेज कर दिया था। कुछ दिन पहले पुलवामा के इसी क्षेत्र में सेना ने हिजबुल मुजाहिद्दीन के 2 आतंकियों को मार गिराया था। वहीं, 4 मार्च को त्राल में भी सुरक्षाबलों ने 2 आतंकियों को ढेर कर दिया था, साथ ही आतंकियों के घर को उड़ा दिया।