+

आतंकियों के कब्जे से छूटकर जवान घर पंहुचा, शुक्रवार रात को हुआ था अगवा

भारत-पाकिस्तान की सीमा पर हालात कुछ ठीक नहीं हैं। इसकी वजह से घाटी में भी तनाव अपने चरम पर है। जगह-जगह पर हाई अलर्ट के चलते सुरक्षा बल तैनात हैं। इसी बीच कश्मीर के बडगाम जिले में आंतकियों द्वारा सेना का एक जवान अगवाह किया गया। लेकिन शनिवार की सुबह भारतीय सेना का जवान मोहम्मद यासीन आतंकियों के कब्जे से छूटकर सुरक्षित अपने घर पर पहुंच गया है। सेना के अधिकारी और जम्मू कश्मीर पुलिस मोहम्मद यासीन से पूछताछ कर रही है।

प्रतीकात्मक

दरअसल यासीन 15 दिन की छुट्टी पर अपने घर आया था। शुक्रवार को जवान के अगवा होने के बाद अधिकारियों ने बताया था कि जम्मू कश्मीर लाइट इंफैन्ट्री रेजीमेंट में तैनात मोहम्मद यासीन के परिवार ने पुलिस को सूचना दी कि कुछ लोग काजीपुरा चदूरा में उनके घर आए और यासीन को ले गए। सूचना मिलने के बाद पूरे इलाके की घेराबंदी कर तलाशी अभियान चलाया गया था।

पुलिस और सेना ने आशंका जताई कि यह किसी आतंकी संगठन की हरकत हो सकती है। हालांकि अभी तक इस बात की कोई जानकारी नहीं मिल पाई है कि मोहम्मद यासिन को किस आतंकी संगठन ने अगवा किया था।