+

मध्यस्थता पीठ करेगी राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद मामले की सुनवाई - सुप्रीम कोर्ट

सुप्रीम कोर्ट की पांच सदस्यीय संविधान पीठ ने राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद भूमि विवाद मामला शुक्रवार को मध्यस्थता के लिए भेज दिया है। प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली संविधान पीठ ने कहा कि इस मध्यस्थता पैनल के अन्य सदस्यों में आध्यात्मिक गुरू श्री श्री रविशंकर और वरिष्ठ अधिवक्ता श्रीराम पंचू भी शामिल हैं। होंगें। 

प्रतीकात्मक

 

कोर्ट  ने कहा कि ये मध्यस्थता कार्यवाही उत्तर प्रदेश के फैजाबाद में चलेगी और चार सप्ताह के भीतर अपनी कार्यवाही की प्रगति रिपोर्ट पेश करेगी। मध्यस्थता की इस पूरी  प्रक्रिया को आठ सप्ताह का समय दिया गया है। मध्यस्थता कार्यवाही की इस प्रक्रिया से प्रिंट तथा इलेक्ट्रॉनिक मीडिया दूर रहेंगें।