+

600 करोड़ के बजट से बनेगा काशी विश्वनाथ कॉरिडोर, पीएम मोदी ने रखी नींव

शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी पहुंचे थे। वहां उन्होंने काशी विश्वनाश मंदिर कॉरिडोर का शिलान्यास किया। इस दौरान उन्होंने 11 बार फावड़ा चलाकर कॉरिडोर की आधारशिला भी रखी। इसके साथ ही पीएम मोदी ने काशी की जनता को सम्बोधित करते हुए यूपी की पूर्व सरकार पर तंज भी कसा। उन्होंने कहा कि '2014 के बाद से यहां की राज्य सरकार का सपोर्ट नहीं मिला। नहीं तो आज हम कॉरिडोर का शिलान्यास नहीं, बल्कि उद्धाटन कर रहे होते।' 

प्रतीकात्मक

 

पीएम मोदी ने कहा कि वे पहले से यहां आते रहे हैं। जब वो राजनीती में नहीं थे, उन्हें तब से ही लगता था कि यहां कुछ करना है। भोले बाबा सालों से दीवार में जकड़े हुए थे, लेकिन किसी ने चिंता नहीं की। 300 सालों बाद इस मंदिर के सौंदर्यीकरण का काम शुरू हुआ है। साथ ही उन्होंने विश्वनाथ धाम के लिए यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ और वाराणसी के अफसरों को भी बधाई दी। 

प्रतीकात्मक

 

पीएम मोदी ने उन लोगों का भी धन्यवाद दिया जिन्होंने बाबा के लिए अपनी जमीन छोड़ दी। उन्होंने कहा बाबा का नया धाम अब दुनिया भर में चर्चा का विषय है। मंदिर परिसर में मिले 40 मंदिरों को भी संरक्षित किया जाएगा। काशी विश्वनाथ कॉरिडोर की आधारशिला रखने के बाद पीएम मोदी ने कहा कि इससे पूरे विश्व मे काशी को नई पहचान मिलेगी। ये मेरे ही नसीब में लिखा था। मुझे काशी इन्हीं कामों के लिए बुलाया गया था। साथ ही उन्होंने कहा कि बीएचयू के स्टूडेंट्स इस पर केस स्टडी के रूप में काम करें, रिसर्च करें। धाम का निर्माण कैसे हुआ? शास्त्रों को ध्यान रख इसका पालन किया गया है।