+

यूपी में गोवंश के शव के साथ किया गया अमानवीय व्यवहार, वीडियो आया सामने

आज देश में गाय के नाम पर खूब राजनीती हो रही है। गाय राम मंदिर की तरह ही बड़ा चुनावी मुद्दा बन चुका है। जानवरों और खासकर गाय के संरक्षण के लिए देश में बहुत सी संस्थाएं भी बनी हुई हैं। आमतौर पर देश की कुछ जगहों पर इन गौ रक्षकों द्वारा हिंसा की खबर भी आती रहती है। अक्सर ये हिंसा तब अधिक बढ़ जाती है जब चुनाव नजदीक हों। लेकिन क्या गौरक्षा का ये मुद्दा सिर्फ चुनाव तक के लिए ही है? क्या जानवरों और खासकर गौ रक्षा की जिम्मेदारी देश के हर युवक की नहीं है? ये गौ संरक्षण को देखते हुए कुछ बड़े सवाल हैं। 

प्रतीकात्मक

 

दरअसल यूपी के फतेहपुर जिले से गोवंश के शव के साथ अमानवीय व्यवहार का एक वीडियो सामने आया है। इस वीडियो में एक वाहन चालक ने गोवंश के शव को गाड़ी के पीछे बांधा हुआ है और उसे घसीटते हुए ले जा रहा है। कोई ड्राइवर को रोकने की कोशिश नहीं कर रहा है और वीडियो बनाने वाला भी गाड़ी के पीछे चलकर सिर्फ वीडियो बना रहा है। 

प्रतीकात्मक

 

वीडियो जब बजरंग दल के पास पहुंची तो बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने संज्ञान लेते हुए बुधवार को पुलिस में शिकायत दर्ज कराई और आरोपियों के खिलाफ प्रदर्शन भी किया। यह वीडियो सदर कोतवाली इलाके के एनएच -2 का है और जिस गाड़ी से गोवंश के शव को बांध कर घसीटा जा रहा है वो एनएचएआई विभाग की है। पशु क्रूरता अधिनियम के तहत शव को इस तरह से खींचकर ले जाना अमानवीय है। पुलिस ने ड्राइवर के खिलाफ मुकदमा दर्ज करते हुए गाड़ी को सीज कर लिया है।