+

कब्र के अंदर से निकला 433 करोड़ का खजाना, अधिकारी हैरान

आपने सुना ही होगा की जितना खजाना विदेशों में है उससे कहीं ज्यादा अपने देश में ही है। जगह जगह टैक्स विभाग वाले स्थान स्थान पर काले धन के लिए छापा डालते हैं। कभी घर में तो कभी बाजार में। कभी दूकान में तो कभी ऑफिस में। आपने ऐसे बहुत से किस्से पढ़े या सुने ही होंगे। लेकिन आज हम आपको जिस किस्से के बारे में यहां बता रहें हैं। उसको जानकर आप खुद हैरान रह जाएंगे। देश के इतिहास में घटी शायद यह पहली घटना है जब टैक्स विभाग के लोगों कने कब्रिस्तान में रेड़ डाली। इस छापे के दौरान जब एक कब्र को खोदा गया तो टैक्स विभाग के अधिकारी सन्न रह गए। कब्र के अंदर से उनको 433 करोड़ रुपये का बड़ा खजाना हाथ लगा जो जवाहिरात की शक्ल में था। आइये अब आपको इस घटना के बारे में विस्तार से बताते हैं। 

प्रतीकात्मक

 

यह है पूरा रहस्य - 

घटना असल में 28 जनवरी 2019 की है। इस दिन टैक्स विभाग के लोगों को यह खबर मिलती है की तमिलनाडु के सर्वणा स्टोर, ज़ी स्कॉवयर तथा लोटस ग्रुप के मालिकों ने कैश में 180 करोड़ की प्रॉपर्टी को खरीदा है। इस डील को छुपा कर ये लोग टैक्स में हेराफेरी कर रहें हैं। टैक्स विभाग को मिली यह खबर इतनी पक्की थी की उसने इन कंपनियों के चेन्नई और कोयंबटूर के 72 ठिकानों पर छापा मरने के लिए टीमें गठित कर लीं। सुबह से अधिकारियों ने इन लोगों के ठिकानों पर छापा मारना शुरू कर दिया। लेकिन रिजल्ट जीरो रहा। टैक्स विभाग के अधिकारियों को न पैसा मिला और न ही कोई दस्तावेज। टैक्स विभाग को पुख्ता खबर मिली थी अतः फिर से रणनीति बनाई गई।

प्रतीकात्मक

 

इस बार मुखबिरों को एक्टिव किया गया, सीसीटीवी कैमरों को चेक किया गया, कॉल डिटेल खंगाली गई। इसके बाद पता लगा की 28 जनवरी को एक एसयूवी पूरे दिन सडकों पर घूमती रही। इस गाड़ी पर विभाग के लोगों को शक हुआ तथा गाड़ी और उसके ड्राइवर को पकड़ लिया गया। इसके बाद में ड्राइवर से कड़ी पूछताछ की गई। ड्राइवर के इशारे पर टैक्स विभाग के अधिकारी एक कब्रिस्तान में पहुचें तथा ड्राइवर की बताई एक विशेष कब्र को खोदा गया। कब्र खुदने के बाद मे टैक्स विभाग के अधिकारी हैरान रह गए। कब्र के अंदर से 25 करोड़ नकद, 626 कैरेट हीरे तथा 12 किलो सोना निकला। इस संपत्ति का कुल मूल्य 433 करोड़ रुपया आंका गया है।