+

खुशखबरी - नई-नवेली दुल्हनों को फेरे लेते ही मिलेगा 1 तोला सोना

 नई-नवेली दुल्हनों को सरकार ने ख़ास गिफ्ट दिया है। सरकार ने एलान किया है की जिन लड़कियों का विवाह होगा। उनको दुल्हन बनते ही एक तोला सोना फेरे लेते ही सरकार की और दिया जाएगा। यह फैसला असं की राज्य सरकार ने किया है। इस बारे में असल में वित्त मंत्री हेमंत बिस्व सरमा ने 2019-20 का बजट पेश करते हुए बताया था। इसी के साथ उन्होंने गरीब लोगों को एक रुपये किलों के मूल्य पर चावल देने की घोषणा भी की। इस बारे में बताते हुए सरमा ने कहा था कि "असम की पुरानी परंपरा रही है की जब बेटी विवाह कर अपने ससुराल जाती है तो उपहार के तौर पर उसको सोने के आभूषण दिए जाते हैं।

प्रतीकात्मक

 

देश के दूसरे राज्यों में इसको दहेज़ के रूप में देखा जाता है लेकिन असम में इसको माता पिता अपनी स्वेच्छा से बेटी को देते हैं। इससे बेटी को भी यह अहसास होता है की उसके माता पिता का सपोर्ट हमेशा उसके साथ बना रहेगा। हमने भी इसी के प्रतीक रूप में यह योजना शुरू की है। इस योजना का लाभ उन परिवारों को मिलेगा जिनकी वार्षिक आय 5 लकह रुपये से कम है। इसके साथ ही हम लोग खाद्य सुरक्षा कानून के तहत यहां के गरीब लोगों को महज एक रुपये किलों के मूल्य में चावल मुहैया करा रहें हैं। इन योजनाओं का लाभ असम की 2.46 करोड़ जनता को मिल रहा है।

प्रतीकात्मक

 

हमारी सरकार ने समाज के आर्थिक रूप से कमजोर अभिभावकों को उनकी लड़की के विवाह पर 11.66 ग्राम सोना देने का वायदा किया है। इस प्रकार से देखा जाए तो असम में रहने वाले लोगों के लिए यह एक अच्छी खबर है। लेकिन इस योजना का लाभ सिर्फ उन परिवारों को मिलेगा। जिनकी वार्षिक आय 5 लाख रुपये तक की है। इसके अलावा गरीब लोगों को महज एक रुपये प्रति किलों की दर से चावल मुहैया कराने की सरकार की योजना का लाभ भी असम की बड़ी जनसंख्या को मिलेगा।