+

योगी सरकार ने दी गरीब सवर्णों को 10 फीसद आरक्षण की मंजूरी

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार गरीब लोगों को 10 फीसदी आरक्षण का लाभ देने का प्रस्ताव लागू कर दिया है। अब उत्तर प्रदेश की सभी श्रेणियों की सरकारी नौकरी में इस आरक्षण का लाभ मिलेगा। बैठक के बाद में UP सरकार के मंत्री व प्रवक्ता श्रीकांत शर्मा ने कहा की "केंद्र सरकार के फैसले को हूबहू लागू किया गया है।" इस फैसले के बाद अब उत्तर प्रदेश आर्थिक आधार पर आरक्षण देने वाला भारत का तीसरा राज्य बन गया है।

प्रतीकात्मक

 

आपको बता दें की इससे पहले झारखंड तथा गुजरात में इस आरक्षण को लागू कर दिया गया है। शुक्रवार को योगी सरकार की अहम बैठक हुई जिसमें आरक्षण सहित 14 प्रस्तावों को मंजूरी दी गई है। आरक्षण के इस प्रस्ताव पर मंजूरी के बाद गरीब सवर्ण लोगों को UP की सभी श्रेणियों में 10 फीसदी आरक्षण का लाभ मिलेगा। इस फैसले को लागू करने से पहले UP सरकार के अधिकारियों ने झारखंड तथा गुजरात के आरक्षण फार्मूले का अच्छे से अध्ययन किया था। इसके बाद इस प्रस्ताव को उत्तर प्रदेश सरकार ने लागू कर दिया है। आपको बता दें की केंद्र सरकार ने इस आरक्षण का लाभ लेने के लिए 8 लाख रुपये की वार्षिक आय रखी है। यानि जिन गरीब सर्वणों की वार्षिक आय 8 लकह रुपये से कम है वे लोग इसका लाभ ले सकते हैं।