+

राम रहीम को मिली उम्रकैद की सजा, जानें अन्य तीन केसों के बारे में

राम रहीम को एक केस में 20 वर्ष की सजा मिल चुकी है तो दूसरे केस में उम्रकैद की लेकिन इसके बाद भी उसकी जिंदगी आसान नहीं है। असल में अभी भी उस पर तीन अन्य केस हैं। जिन पर सुनवाई होनी है और फैसला आना है। एक और साध्वियों के यौन शोषण के केस में राम रहीम को जहां 20 वर्ष का कारावास मिला है वहीँ दूसरी और पत्रकार छत्रपति हत्याकांड में उसको उम्रकैद की सजा भी मिल चुकी है। लेकिन इन सबके वाबजूद भी डेरामुखी राम रहीम पर अभी कानून का शिकंजा कसा रहेगा। असल में कुछ और मामले हैं जिन पर फैसला आना बाकी है हालांकि उम्रकैद की सजा को ऊपरी अदालत में चुनौती देने का रास्ता अभी राम रहीम के पास खुला है।

प्रतीकात्मक

आपको बता दें की अभी राम रहीम के ऊपर डेरा प्रबंधक रणजीत सिंह की हत्या का केस भी सीबीआई की विशेष अदालत में चल रहा है। इस केस में गवाही पूरी हो चुकी हैं। इस केस में 19 जनवरी को बहस शुरू हो रही है और उम्मीद है की इस केस में भी जल्दी ही फैसला आएगा। इसके अलावा डेरामुखी राम रहीम पर अपने 400 साधुओं को नपुंसक बनाने का अपराध भी है। यह केस भी सीबीआई की विशेष अदालत में विचाराधीन है और इस पर सुनवाई चल रही है। तीसरा केस डेरे के फकीरचंद मर्डर केस से जुड़ा है। डेरे की एक अनुयायी ही इस केस की दोवारा जांच कराने के लिए हाईकोर्ट में अपील कर रही है। सीबीआई इस केस की जांच कर रही थी और दिसंबर 2010 में सीबीआई ने इस मामले में क्लोजर रिपोर्ट को दाखिल कर दिया था। जिसके बाद में राम रहीम को बरी कर दिया गया था। अब इस केस को दोवारा से खुलवाने के लिए तैयारी की जा रही है। कुल मिलाकर अब राम रहीम पर तीन केस और हैं जिनमें फैसला आना अभी बाकी है।