+

हत्याकांड में राम रहीम पर फैसला आज, हरियाणा-पंजाब में अलर्ट

रामचंद्र छत्रपति हत्याकांड देश का बहुचर्चित केस रहा है। 16 वर्ष बाद इस मामले में फैसला आने की घड़ी अब आ ही चुकी है। आपको बता दें की इस केस का मुख्य आरोपी डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम है। इस केस में बाबा के साथ किशन लाल, कुलदीप तथा निर्मल को भी आरोपी बनाया गया है। इस मामले में राम रहीम की पेशी वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये सुनारिया जेल से ही होगी जबकी अन्य तीनों आरोपी कोर्ट में ही पेश होंगे। आपको यह भी बता दें की जिस जज जगदीप सिंह ने साध्वी यौन शोषण मामले में राम रहीम को सजा सुनाई थी वहीं इस केस में ही फैसला सुनाएंगे। पेशी के मद्देनजर पुलिस तथा प्रशासन ने शहर तथा कोर्ट परिसर की सुरक्षा बढ़ा दी है। माजरी चौक से लेकर बेला विस्ट तक रुट को ट्रैफिक पुलिस ने डायवर्ट कर दिया है। इसके अलावा कोर्ट परिसर में भी प्रशासन ने 240 जवानों को तैनात किया हुआ है। सुरक्षा की दृष्टि से पूरे शहर में करीब 12 सौ सशस्त्र जवानों को तैनात किया गया है। 

प्रतीकात्मक

इसके अलावा शहर में धारा-144 को लागू कर दिया गया है तथा 5 लोगों के एक साथ खड़े होने पर प्रतिबंध लगाया गया है। डीसीपी का कहना है की प्रशासन के आदेश का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की जायेगी। कोर्ट परिसर में नौ बटालियन अतिरिक्त फ़ोर्स को तैनात किया गया है। इसके अलावा कोर्ट परिसर में वकील तथा निजी कार्य से आने वाले लोगों की चेकिंग भी की जायेगी। आपको बता दें की 24 अक्टूबर 2002 को पत्रकार रामचंद्र छत्रपति पर हमला किया गया था तथा उनको गोलियां मार दी गई थी। जिसके बाद उनकी मौत हो गई थी। आरोपी निर्मल तथा कुलदीप को घटना स्थल से ही पकड़ लिया गया था। इसके बाद में पत्रकार रामचंद्र छत्रपति के बेटे अंशुल छत्रपति ने हरियाणा उच्च न्यायालय में याचिका दायर की थी तथा सीबीआई जांच की मांग भी की थी।