+

दिल्ली - बंद सूटकेस के अंदर मिली लड़की की लाश, जांच जारी

जुर्म के बहुत से चेहरे होते हैं। कई बार अपराधी को पहचानने में काफी ज्यादा साम्स्याओं का सामना करना पड़ जाता है। कभी कभी जुर्म इतनी ख़ामोशी के साथ किया जाता है की अपराधी की कोई आहट प्रशासन तक नहीं पहुंच पाती है। हालही में कुछ ऐसा ही राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में घटा है। दिल्ली के एक नाले के किनारे बंद सूटकेस मिला है और उसके अंदर है एक लड़की की बुरी तरह से कटी हुई लाश। लड़की के चेहरे को शायद इसलिए ही काटा गया था ताकी उसकी पहचान न हो सके। पुलिस अब इस लाश की जानकारी से लेकर अपराधी को पकड़ने की कवायद में जुटी हुई है। 

प्रतीकात्मक

घटना पूर्वी दिल्ली के बीच बहने वाले नाले से सामने आई है। नाले के पास में एक सूटकेस पड़ा था। सर्द रात में नाले किनारे पड़े सूटकेस का अचानक ही आ जाना हर किसी को हैरान कर रहा था लेकिन किसी ने इस बारे में गहराई से नहीं सोचा था। इसी बीच वहां से गुजर रहें एक यात्री ने इस सूटकेस को देखा। सूटकेस को कुछ इस प्रकार से जबरन बंद किया हुआ था की इसको पहली नजर देखकर किसी को भी शक हो सकता था। ऑटो से गुजर रहे यात्री ने इस सूटकेस को देखा तथा पुलिस को खबर दी। घटना स्थल पर जल्दी ही न्यू अशोक नगर की पुलिस पहुंच गई। सूटकेस खुला तो सभी लोग ठिठक गए। सूटकेस में एक लड़की की लाश पकड़ी गई जिसकी उम्र लगभग 24 या 25 साल की थी। अब एक बात को साफ़ हो चुकी थी की लड़की को किसी ने क़त्ल किया था। लाश के चेहरे पर तेज धार औजार से वार कुछ इस प्रकार से किये गए थे की लड़की की असल पहचान न हो सके। 

प्रतीकात्मक

पुलिस ने लड़की की तलाशी ली ताकी कुछ सबूत मिल सके लेकिन लड़की के हाथ पर बने टैटू से ज्यादा पुलिस को कुछ नहीं मिला। टैटू लड़की के दाएं हाथ पर बना था जिस पर मोहित लिखा हुआ था। वर्तमान में पुलिस टैटू के सहारे लिखे इस नाम को लेकर ही तफ्तीश करने में जुटी हुई है। मृतक लड़की की पहचान भी नहीं हो पाई है इस कारण पुलिस की समस्याएं और ज्यादा बढ़ चुकी हैं। अब पुलिस आसपास के सीसीटीवी की फुटेज को भी खंगाल रही है साथ ही सूटकेस बेचने वाले लोगों से भी संपर्क कर रही है।