+

कुंभ मेले के अस्पताल में जन्मा बच्चा तो प्रयागराज ही रखा गया नाम

संगम नगरी प्रयाग में कुंभ मेले के प्रारंभ में ही एक अनोखी खबर सुनने को मिली है। असला में कुंभ मेले के अस्पताल में एक महिला ने बच्चे को जन्म दिया है। इसके बाद परिवार वालों ने नवजात बच्चे का नाम "प्रयागराज" ही रख दिया है। डॉक्टर कहते हैं की यह पहली महिला है जिसके घर कुंभ मेले के प्रारंभ में ही ख़ुशी आई है। यूपी के मिर्जापुर के लालगंज अमदह गांव के निवासी कल्लू असल में कुंभ मेले में एक सफाईकर्मी के तौर पर कार्य कर रहें हैं। कल्लू की प्रेग्नेंट पत्नी रजनी भी इस समय कुंभ परिसर में आई हुई है। बीते सोमवार को रजनी को जब दर्द हुआ तब उसको कुंभ मेला परिसर के अस्पताल में ले जाय गया। जहां उसने एक बच्चे को जन्म दिया। कुंभ मेले में हुए जन्म को यादगार बनाने के लिए परिवार के लोगों ने बच्चे का नाम "प्रयागराज" ही रख डाला है।

प्रतीकात्मक

यह खबर अब सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रही है। रजनी ने बताया की उसके घर तीन बेटियां थीं और उसकी इच्छा थी की उसके यहां एक बेटा भी होना चाहिए। सभी तीर्थो के राजा प्रयागराज में आकर उसकी यह इच्छा भी अब पूरी हो चुकी है। इस अवसर पर डॉ अशोक पालीवाल ने यह जानकारी दी की रजनी को जननी सुरक्षा योजना का लाभ मिले इसके लिए सीएमओ को निर्देश दिए जा चुके हैं। बैंक खाते आदि की जानकारी मिलते ही बची सभी औपचारिकताएं भी पूरी कर दी जाएंगी। कुल मिलाकर कुंभ मेले के प्रारंभ में ही लोगों को ख़ुशी की सुचना मिल चुकी है और परिवार के लोगों ने इस घटना को यादगार बनाने के लिए बच्चे का नाम भी प्रयागराज रख दिया है।