+

यूपी सरकार ने घटाया सरकारी हज कोटा, जानें पूरी खबर

उत्तर प्रदेश सरकार ने इस वर्ष हज यात्रा करने वाले लोगों में करीब 3 हजार लोगों की कटौती कर दी है। इसके बाद प्राइवेट टूर ऑपरेटर्स के कोटे में लगभग 4 हजार यात्रियों को बढ़ा दिया गया है। इस हिसाब से अब सबसे ज्यादा यात्री यूपी से होंगे तथा सबसे कम यात्री दमन दीव से होंगे। अरब हुकूमत के मुताबिक इस साल भारत से 1,75,025 हज यात्री जायेंगे। कमेटी ऑफ इंडिया इस वर्ष भारत से 1,25,025 हज यात्रियों को भेजेगी। पिछले वर्ष 2018 में हज कमेटी की और से 1,28,700 यात्रियों को अरब भेजा गया था। दूसरी और प्राइवेट टूर ऑपरेटर्स के जरिये 46325 हज यात्री अरब गए थे जब की इस साल प्राइवेट टूर ऑपरेटर्स के जरिये 50 हजार हज यात्री अरब जायेंगे। 

प्रतीकात्मक

जहां तक बात उत्तर प्रदेश की हज कमेटी की बात है तो बता दें की इस वर्ष 30237 यात्री यूपी हज कमेटी की और से भेजे जायेंगे। जो अन्य किसी भी राज्य से ज्यादा संख्या है। इस वर्ष यूपी से करीब 34397 हज आवेदन मिले हैं। वहीं दमन व दीव से करीब 11 हजार यात्री अरब जायेंगे। यहां से करीब 11 हजार लोगों के आवेदन प्राप्त हुए हैं। इस वर्ष हज कमेटी ऑफ इंडिया को 3 बार आवेदन की तिथि बढ़ानी पड़ी। हज कमेटी ऑफ़ इण्डिया इस बार 1,25,025 हज यात्री अरब भेजगी, जबकि पिछले साल हज यात्रियों की संख्या इस वर्ष से ज्यादा थी। कुल मिलाकर यह कहा जा सकता है कि इस बार जहां 3 हजार यात्रियों की संख्या यूपी सरकार ने कम की है तो करीब 4 हजार लोग प्राइवेट टूर ऑपरेटर्स के जरिये हज यात्रा पर जा सकेंगे।