+

मोदी सरकार ने कम किया ‘जीएसटी’ का बोझ, जानें क्या हुआ सस्ता

 

वस्तु एवं सेवा कर परिषद् यानि जीएसटी काउंसिल की शनिवार को 31वीं बैठक हुई। वित्त मंत्री अरुण जेटली की अध्यक्षता में हुई इस बैठक में वस्तुओं को सस्ता करने पर सहमति बनी। जो देश के आम आदमी के लिए एक राहत की खबर है। इसमें 6 और सामान को 28 प्रतिशत स्लैब से हटाकर, 18 प्रतिशत पर लाया गया है। अब केवल 28 लग्ज़री वस्तुओं को ही 28 प्रतिशत स्लैब में रखा गया है। इस बैठक में सिनेमा टिकिट भी सस्ते होने की बात कही गई है। इसके साथ ही 33 वस्तुओं को 18 फीसदी जीएसटी स्लैब से 12 व 5 फीसदी के स्लैब में लाया गया है।  

Image result for arun jaitley gst प्रतीकात्मक

इस 31वीं जीएसटी बैठक में सरकार का मुख्य ध्यान आम लोगों पर जीएसटी का बोझ कम करना था। इसके मुताबिक कई चीजों पर जीएसटी कुछ फीसदी तक कम भी किया गया। जो आम लोगों के एक राहत की खबर है। अरुण जेटली द्वारा इस बैठक में कुछ मुख्य घोषणाएं की गई, 

  • 33 वस्तुओं पर जीएसटी दर 12 व 5 फीसदी किया गया। 
  • धार्मिक हवाई सेवाओं पर 5 फ़ीसदी जीएसटी किया गया। 
  • 7 सामानों को 28 फीसदी जीएसटी स्लैब से 18 फीसदी में रखा गया। 
  • अब केवल 34 लग्ज़री आइटम्स ही 28 फीसदी स्लैब में होंगे। 
  • 32 इंच वाले टीवी पर भी अब 18 फीसदी जीएसटी होगा।  
  • 100 रुपये से महंगे सिनेमा टिकट पर जीएसटी घटाकर 18 फ़ीसदी किया गया। 
  • टीवी, टायर, पावर बैंक, वीडियो गेम्स पर 28 की जगह 18 फ़ीसदी जीएसटी लगेगा। 
  • सीमेंट और ऑटो पार्ट्स पर से जीएसटी नहीं कम किया गया। 
  • Image result for arun jaitley gst प्रतीकात्मक

फिलहाल 28 फीसदी वाले ऊंचे स्लैब में 34 वस्तुएं हैं। जिसमें डिजिटल कैमरा, एयर कंडीशनर, वाहन टायर, वॉशिंग मशीन, सेट टॉप बॉक्स, मॉनिटर और प्रोजेक्टर शामिल हैं। सीमेंट को भी 28 फीसदी स्लैब में रहने दिया गया है।