+

12 वर्ष तक के बच्चों का अब नहीं लगेगा टिकट

प्रतीकात्मक

12 वर्ष तक के बच्चों का अब बस में टिकट नहीं लगेगा। बच्चों के लिए यह अनोखी सेवा 17 दिसंबर से गुरुग्राम में शुरू की गई है। इस सेवा का लाभ लेने के लिए बच्चों के अभिभावकों को एक छोटा का कार्य करना होगा। इसके लिए बच्चों की उम्र से जुड़ा पहचान पत्र बस में दिखाना पड़ेगा। यानि जब आप अपने बच्चे के साथ गुरुग्राम सिटी बस में सफर कर रहें होंगे तब आपको अपने बच्चे की उम्र से जुड़ा पहचान पत्र कंडेक्टर को दिखाना होगा। इसके बाद में आपसे बच्चे का कोई किराया नहीं लिया जाएगा। इस सेवा के शुरू होने के बाद उन बच्चों को सबसे ज्यादा लाभ होगा जो सिटी बस से स्कूल जाते हैं।

गुरुग्राम सिटी बस में मिलेगी फ्री सेवा

प्रतीकात्मक

 गुरुग्राम अधिकारी इस बारे में कहते हैं कि "जीएमबीसीएल ने बसों में यात्रियों की संख्या बढ़ाने के उद्देश्य से यह कदम उठाया है। आज 17 दिसंबर से यह सेवा गुरुग्राम में शुरू हो जायेगी। इस सेवा के माध्यम से क्लास 1 से 8 तक के बच्चों को सिटी बस मेंस सफर करने में आसानी होगी। इसके अलावा रूट नंबर 112 तथा 212 पर 90 किमी के सफर का फायदा मिलेगा। 26 जनवरी 2019 से रूट नंबर 215 पर बसें चलना शुरू हो जाएंगी। जैसे जैसे सवारियां बढ़ेंगी बसों की संख्या भी बढ़ा दी जाएगी। आपको बता दें की जीएमबीसीएल को सिटी बसों के सञ्चालन में 46 रुपये प्रतिकिमी की दर से घाटा हो रहा था। इससे उबरने के लिए कंपनी ने बैठक की और यह फैसला किया की 12 वर्ष तक बच्चों को मुफ्त में यात्रा की सुविधा दी जाएगी। बच्चों के साथ में उनके माता पिता होंगे और वे अपने टिकट लेंगे ही तो इस हिसाब से वर्तमान में हो रहें घाटे में कुछ कमी आएगी। अतः आज 17 दिसंबर 2018 से 12 वर्ष के बच्चों के लिए लिए गुरुग्राम सिटी बसों में मुफ्त यात्रा प्रारंभ कर दी गई है।