+

85 साल की भयंकर आग, 50 की मौत, कई सिने-सिलेब्रेटी के घर हुए खाक।

अमेरिका के एक प्रांत कैलिफोर्निया में 1933 के बाद लगी सबसे भयंकर आग में लाखो लोग बेघर हो गए हैं, और 50 के करीब मौंते हो चुकी हैं। वहां लगी पिछले दिनों आठ नवंबर की सुबह आग इस कदर फैलती चली गई कि लिखे जाने तक उसकी चपेट में आए 7200 घर राख की ढेर में बदल गए। 15,500 इमारतों पर खतरा बना हुआ है। इस भयंकर दावानल की आपदा में आम नागरिकों की मौतों के अलावा हाॅलिवुड के कई दिग्गज सितारों के घर भी जलकर खाक हो गए। कई बहुचर्चित सिलेब्रेटी को तो घर खाली करना पड़ा।

हालीवुड की लोकप्रिय फिल्म 300 में स्पार्टन के राज लियोनिडस की भूमिका निभाने वाले अभिनेता गरार्ड बटलर, अमेरिकी गायिका मिली साइरस, गायक राॅबिन थिक और टीवी कलाकार कैमिला ग्रामर के घर और वाहन भी भीषण आग में जल गए।

घर छोड़कर जान बचाने वाले सितारों में हालिबुड अभिनेता विल स्मिथ, लेडी गागा, साइमन काॅवेल, कैटलिन, टीवी स्टार और माॅडल किम कर्दाशियां समेत कई बड़े कलाकरों हैं। आग से उनका इलका पूरी तरह से तबाह हो गया है। 

अधिकारियों के मुताबिक पूरी तरह जल चुके पैराडाइज़ शहर के आसपास के इलाक़ों में 13  शव मिले। फैलते आग पर काबू पान मुश्किल हो गया है। 

इससे पहले कैलिफ़ोर्निया में सबसे भीषण आग साल 1933 में ग्रीफ़िथ में लगी थी जिसमें 31 लोग मारे गए थे.

स्थानीय प्रशासन के अनुसार दक्षिणी कैलिफ़ोर्निया में भी जंगलों में आग लगी है। वहां भी जानमाल का नुक़सान हुआ है। इस वजह से कैलिफ़ोर्निया के अलग-अलग हिस्सों में तीन लाख से अधिक लोगों को अपने घर छोड़ दिए। इस भयावहता को देखते हुए राष्ट्रपति ट्रंप ने राज्य में आपदा घोषित कर दी है, जिसके बाद संघीय मदद मिलने लगेगी। क़रीब चार करोड़ की आबादी वाले इस प्रांत में लगे आग की वजह से 1,11,000 एकड़ इलाक़ा तबाह हो गया है।   

ऐतिहासिक रूप से कैलिफ़ोर्निया के जंगलों में गर्मी में आग लगती है और ये सिलसिला बरसात आने तक चलता है। विश्लेषक बताते हैं कि वहां के वातावरण में नमी की कमी,  गर्म हवाएं, सूखी ज़मीन और महीनों तक बारिश न होने की वजह से आग भड़कने का ख़तरा बढ़ गया है। एक कारण जलवायु परिवर्तन बताया जा रहा है। हाल के वर्षों में तापमान ने ऊंचाई के रिकार्ड छुए हैं। बारिश का भरोसा नहीं रहता है । गर्म होते वातावरण की भूमिका बताते हुए प्रांत के गवर्नर जैरी ब्राउन ने कहा था, "ये एक नया सामान्य वातावरण नहीं है बल्कि ये नया आसामान्य वातावरण है." वैसे कैलिफ़ोर्निया के जंगलों में धधकती विनाशकारी आग को बुझाने में हज़ारों दमकलकर्मी लगे हैं। प्रस्तुति: दिनचर्या डेस्क