+

पति पर रेप का आरोप, केस की सुनवाई से पहले ही घर में दोनों मृत मिले।

गाजियाबाद में नीति खंड-3 के एक फ्लैट नंबर 12 में 12 नवंबर को स्त्री और पुरुष की लाश मिलने पर इलाके में सनसनी फैल गई थी। मौके पर पुरुष की जेब से मिली सुसाइट नोट की मानें तो वह स्त्री का पति था। उसमें लिखा था,'' उसके खिलाफ रेप और अन्य मामले में पत्नी ने उसे झूठा फंसा रखा है। आगे भी किसी केस में फंसाने की साजिश रच रही है। इसलिए उसे खत्म कर खुदकुशी कर रहा हूं।''

उस सुसाइट नोट पर 11—11—2018 की तरीख लिखी है। पत्र से यह भी पता चला कि महिला के साथ पहले लिव-इन में रह रहा था। उसके बाद उन्होंने शादी कर ली थी। जल्द ही उनके बीच आपसी संबंधों में तब कड़वाहट आ गईजब महिला ने उसके खिलाफ रेप का मुकदमा दर्ज कराया। 

इस तरह प्राथमिक जांच में पुलिस ने पाया कि महिला ने अपने पति के खिलाफ ही रेप का केस दर्ज करावाया था। दिलचस्प बात यह है कि इसकी सुनवाई से पहले ही दंपति अपने घर में मृत मिले। महिला ने रेप की यह शिकायत शादी से पहले दर्ज कराई थीजिसकी सुनवाई अब भी चल रही थी।

महिला की उम्र 36 साल और उसके पति की उम्र 24 साल बताई गई है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार महिला ने दिसंबर 2017 में युवक के खिलाफ रेप की शिकायत दर्ज कराई थी। हालांकि इस साल जनवरी में उन्‍होंने शादी कर ली थीलेकिन रेप का यह केस अभी अदालत में चल रहा था।

गाजियाबाद की एक अदालत में 12 नवंबर को इस पर सुनवाई होनी थी। पुलिस का अनुमान है कि युवक ने संभवत: पहले महिला की हत्‍या की और बाद में खुदकुशी कर ली। पुलिस जब दरवाजा तोड़कर कमरे में दाखिल हुईजहां उसे महिला का शव बिस्‍तर पर मिलाजबकि युवक फांसी के फंदे से लटकता मिला था।  

अन्य जानकारी के अनुसार महिला और युवक की मुलाकात दो साल पहले हुई  थी उसके बाद दोनों के बीच दोस्‍ती इतनी बढ़ी कि उन्‍होंने लिव इन रिलेशन में साथ रहने लगे। बताते हैं कि महिला का पहले की शादी से 13 साल का एक बेटा भी हैजो यूपी के इटावा में अपनी नानी के पास रहता है।

उनके पड़ोसियों का कहना है कि दोनों के बीच अक्सर झगड़े होते रहते थे। दीपवली के दिन महिला ने अपने पति को उसके परिवार से मिलने जाने से रोक दिया था। शनिवार की रात को भी उनके बीच झगड़ा हुआ था। रेप के आरोप में युवक को जल भी जाना पड़ा था।