+

घड़ी बन सकती है आपके दुर्भाग्य का कारण

वास्तु शास्त्र हमारे देश काफी प्राचीन समय से प्रचलित है। आज भी जब कोई अपना घर बनवाता है तो उसका नक्शा किसी वास्तु शास्त्री से बनवाकर लाता है। वास्तु के अनुसार आपके घर में रखी हर वस्तु आपके जीवन को प्रभावित करती है। इन्ही में से घड़ी भी एक वस्तु है। घड़ी एक ऐसी वस्तु है जो आपके लिए तरक्की के रास्ते खोल सकती है लेकिन आपके जीवन को दुर्भाग्य की अंधेरी खाई में भी डाल सकती है। अतः घड़ी के बारे में सही से जानकारी लेना बहुत आवश्यक हो जाता है। यदि आप घड़ी के बारे में सही से जानकारी रखेंगे तो यह आपके जीवन की तरक्की में आपकी सहयोगी बन जाएगी। आइये अब आपको बताते हैं की घड़ी के प्रति आपको किन किन बातों का ध्यान रखना चाहिए। 

दक्षिण दिशा में न लगाएं घड़ी

ध्यान रखें की घड़ी को दक्षिण दिशा में नहीं लगाना चाहिए। असल में ज्योतिष तथा वास्तु के अनुसार दक्षिण दिशा भगवान यम की मानी जाती है। इस दिशा में घड़ी लगाने से आपके जीवन में आने वाले अवसरों की गति धीमी हो जाती है। इस दिशा में घड़ी लगाना घर के मुख्य व्यक्ति के स्वास्थ्य के लिए भी हानिकारक होता है। 

इन दिशाओं में लगाएं घड़ी

पूर्व, उत्तर या पश्चिम दिशाएं घड़ी लगाने के लिए शुभ मानी जाती हैं। इन दिशाओं में लगाईं गई घड़ी घर में शुभ तथा सकारात्मक वातावरण बनाये रखती है।  उत्तर दिशा में लगाईं हुई घड़ी घर में धन की हानि से बचाती है। इसके अलावा ऊपर लिखी गई दिशाओं में लगाईं गई घड़ी से घर के लोगों को शुभ अवसर प्राप्त होते रहते हैं। 

 टूटी या बंद घड़ियां न रखें

घर में कभी टूटी या बंद घड़ियां नहीं रखनी चाहिए। असल में ऐसा करने से घर में नकारात्मकता फैलती है। यदि आप घर में सकारात्मकता चाहते हैं तो घर में टूटी या बंद घड़ियों को न रखें। 

मुख्य दरवाजें पर न लगाएं घड़ी

घर के मुख्य दरवाजे पर कभी घड़ी को नहीं लगाना चाहिए। असल में ऐसा करने से आपके घर में तनाव बढ़ता है। इसके अलावा घर से बाहर जाते या अंदर आते सामान्य आप पर कई प्रकार की नकारात्मक ऊर्जाओं का प्रभाव पड़ता है। अतः मेन गेट के ऊपर घड़ी लगाना शुभ नहीं माना जाता है।