+

24 साल बाद सियासी दूरिया मिटा मायावती और मुलायम सिंह ने साझा किया एक मंच

मैनपुरी से किस्मत आजमा रहे पूर्व मुख्यमंत्री एवं सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह ने नामांकन भरने के बाद अपनी  पहली रैली की । इस रैली की मुख्य विशेषता रही कि इस मंच पर 24 साल बाद बसपा सुप्रीमो मायावती ने गेस्ट हाउस कांड को भुलाकर पूर्व मुख्यामंत्री मुलायम सिंह के साथ मंच साझा किया। 

प्रतीकात्मक

 

 बता दें मैनपुरी सपा का गढ़ माना जाता है। सन 1 996 में पहली बार मुलायम सिंह यादव ने मैनपुरी से जीत हासिल की थी उसके बाद मैनपुरी ने मुलायम सिंह को कई बार सांसद बनाया। मैनपुरी लोकसभा सीट पर भारतीय जनता पार्टी ने कभी भी जीत का स्वाद नहीं चखा है। मंच पर अखिलेश यादव और मायावती के भतीजे आकाश आनंद भी मौजूद हैं।