+

तमाम अटकलों के बाद दिल्ली में आप-कांग्रेस का गठबंधन लगभग तय, इन सीटों पर लड़ सकती है कांग्रेस

प्रतीकात्मक

लोकसभा चुनाव 2019 में कई-राज्यों में गठबंधन को लेकर उठापठक देखने को मिली है। इन्हीं राज्यों में से एक राजधानी दिल्ली भी है, जहां आप-कांग्रेस के बीच गठबंधन पर कई दिनों से चल रही हां-ना हां-ना आखिरकार एक सहमति पर रुक गई है। दोनों पार्टियों के बीच दिल्ली के साथ-साथ हरियाणा के लिए भी गठबंधन पर रज़ामंदी हो गई है। खबर रही है कि दिल्ली में गठबंधन के लिए दोनों पार्टियां 4-3 के फॉर्मूले पर तैयार हो गई हैं। 

बताया जा रहा है कि यह 4-3 के फॉर्मूले में 4 सीट आम आदमी पार्टी की तो 3 कांग्रेस की होंगी। आम आदमी पार्टी चांदनी चौक, उत्तर पश्चिमी दिल्ली, पश्चिमी दिल्ली और उत्तरी दिल्ली से अपना प्रत्याशी उतारेगी तो वहीँ कांग्रेस के हिस्से में पूर्वी दिल्ली, उत्तर पूर्वी दिल्ली और नई दिल्ली सीटें आई हैं। लेकिन दोनों पार्टियों की तरफ से अभी इसकी औपचारिक घोषणा नहीं की गई है।

प्रतीकात्मक

सूत्रों के हवाले से खबर है कि शुक्रवार को दिल्ली कांग्रेस की हुई बैठक में यह फैसले लिए गए हैं। जिसमें सिर्फ दिल्ली बल्कि हरियाणा में गठबंधन पर भी सभी नेताओं ने सहमति जताई। दिल्ली कांग्रेस की इस बैठक में दिल्ली कांग्रेस प्रभारी पीसी चाको, दिल्ली कांग्रेस अध्यक्ष शीला दीक्षित, हारुन युसूफ अन्य नेता भी उपस्थित थे।

गठबंधन पर पीसी चाको का बयान

वहीँ बैठक के बाद दिल्ली कांग्रेस प्रभारी पीसी चाको का बयान आया कि अभी गठबंधन पर कोई फैसला नहीं लिया गया। उन्होंने कहा कि पार्टी ने गठबंधन पर फैसला राहुल गांधी पर छोड़ दिया है।