+

राहुल गांधी का बड़ा ऐलान, कहा- कांग्रेस जीती तो खाते में आएंगे हर साल 72 हजार रु.

चुनावी माहौल में नेताओं द्वारा की गई बड़ी-बड़ी घोषणाएं हमेशा से ही जीत का एक मंत्र रही हैं। 2014 का लोकसभा चुनाव इसका एक बड़ा उदहारण रहा है। लोकसभा चुनाव 2019 में भी पार्टियों द्वारा ऐसे ही प्रयास किये जा रहे हैं। सोमवार को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी बड़ी घोषणा की, उन्होंने कहा उनकी पार्टी जीतती है तो सरकार 20 फीसदी सबसे गरीब परिवारों को हर साल 72 हजार रुपये देगी। उन्होंने आगे कहा, कि जिस परिवार की आमदनी 12 हजार रुपये महीना से कम है, उनके खाते में हर साल 72 हजार रुपये भेजे जाएंगे। उन्होंने घोषणा करते हुए कहा कि कांग्रेस सरकार गरीबों को न्याय देगी। धीरे-धीरे हम 25 करोड़ लोगों को गरीबी से बाहर निकालने में कामयाबी हासिल करेंगे। बता दें कांग्रेस ने इस योजना का नाम 'न्यूनतम आय योजना' (NYAY) रखा है।

प्रतीकात्मक

राहुल गांधी ने पिछली कांग्रेस सरकार द्वारा लांच की गई मनरेगा योजना का जिक्र करते हुए कहा कि, गरीबी दूर करने के लिए कांग्रेस मनरेगा लाई थी। मनरेगा के जरिए देश की 14 करोड़ लोगों को गरीबी से बाहर निकाला। अब हम न्यूनतम आमदनी की गारंटी दे रहे हैं। साथ ही उन्होंने कहा, कांग्रेस ने मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में किसानों के कर्जमाफी का वादा किया था। जिसे हमने 20 दिन के अंदर पूरा किया।

राहुल गांधी ने कहा कि सारी गणनाएं कर ली गई हैं। कम से कम देश के 5 करोड़ परिवारों और 25 करोड़ लोगों को योजना का फायदा मिलेगा। हमने देश भर से लोगों का राय-मशवरा ले कर अपना घोषणा पत्र तैयार कर लिया है। पी. चिदंबरम उसे अमित रूप देने में लगे हैं।

साथ ही उन्होंने पीएम मोदी पर हमला करते हुए बोला कि, वह अमीरों को पैसा देते हैं, हम गरीबों को देंगे। इस देश में दो भारत नहीं बनने दिया जाएगा।