+

अमर सिंह ने RSS के नाम की अपनी 12 करोड़ रुपये की संपत्ति

उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ के लालगंज तहसील के तरवां निवासी राजयपाल सांसद अमर सिंह आज अपनी संपत्ति की रजिस्टरी RSS के नाम कराने के लिए तहसील में पहुचें। यह जानकारी वीरभद्र प्रताप सिंह ने दी है जो अमर सिंह के करीबी हैं। वीरभद्र प्रताप सिंह ने बताया की उक्त जमीन को पहले RSS को लीज पर देने की बात चल रही थी। लेकिन अब अमर सिंह ने अपनी 12 करोड़ की संपत्ति को हमेशा के लिए RSS को देने का फैसला कर लिया है। इसके लिए ही बुद्ध्वार को अमर सिंह लालगंज पहुचें थे। अमर सिंह ने तरवां के अपने मकान तथा जमीन को RSS के नाम रजिस्टरी करा डाली है। आरएसएस के अनुषांगिक संगठन सेवा भारती के राष्ट्रीय संगठन मंत्री ऋषिपाल सिंह भी इस समय अमर सिंह के साथ थे। वीरभद्र प्रताप सिंह ने आगे बताया कि 23 फरवरी को कानपुर में आरएसएस का कार्यक्रम है।

प्रतीकात्मक

 

इस प्रोग्राम में यूपी के उप मुख्यमंत्री दिनेश चंद्र शर्मा तथा अमर सिंह मुख्य अतिथि के तौर पर रहेंगे। पत्रकारों के बात करते हुए अमर सिंह ने कहा की "बसपा के अवसरवादी पार्टी है इस समय विपक्ष के सबसे बड़े नेता राहुल गांधी हैं। इसका उदाहरण मध्य प्रदेश में बीजेपी की हार है। प्रियंका गांधी के बारे में अमर सिंह ने कहा की वे मेहनती नेत्री हैं और उनके राजनीति में आने से कॉकरोच पार्टियों का खात्मा हो जाएगा। वर्तमान में बीजेपी को किसी पर सार्वजानिक रूप से टिपण्णी नहीं करनी चाहिए, यह गलत है। सपा बसपा गठबंधन की जहां तक बात है बुआ और बबुआ की घर वापसी होगी, इन लोगों को जहां मौका मिलता है वहां ये साथ हो जाते हैं। मैं मोदी तथा संघ के विचारो का समर्थन करता हूं और वर्तमान में सारा देश संघमय हो चुका है।" कुल मिलाकर अमर सिंह ने न सिर्फ अपनी संपत्ति आरएसएस के नाम की है बल्कि वे बीजेपी तथा संघ के समर्थन में भी पूरी तरह दिखाई पड़ रहें हैं।