+

भीष्म पितामह के बताये गुप्त उपाय, मिलेगी लंबी उम्र और स्वास्थ्य

भीष्म पितामह के बारे में आप जानते ही होंगे। ये महाभारत काल के महान योद्धा और बड़े स्तर के धार्मिक व्यक्ति रहें हैं। पितामह एक ऐसे व्यक्ति थे जिनका कौरव तथा पांडव दौनों ही पूरा सम्मान करते थे। यहां तक की श्रीकृष्ण भी पितामह को बहुत आदर देते थे।

प्रतीकात्मक

 

भीष्म पितामह के बारे में यह बात जगत प्रसिद्ध है की वे जीवनभर स्वस्थ रहे तथा अपनी मर्जी से ही उन्होंने मृत्यु का वरण किया। जब पितामह अपने अंतिम समय में बाणों की शय्या पर थे तो युधिष्ठिर ने उनसे उनके स्वास्थ्य तथा लंबी उम्र के बारे में जानने के लिए उपदेश देने की प्रार्थना की थी। इसके बाद भीष्म पितामह ने राज धर्म से लेकर मोक्ष धर्म तक बहुत से उपदेश दिए थे। जिनको आप महाभारत में विस्तार से पढ़ सकते हैं। अपने उपदेशों में भीष्म पितामह ने लंबी उम्र तथा स्वास्थ्य के बारे में जो कुछ बताया था। उसको हम यहां आपको बता रहें हैं। इन बातों को अपन जीवन में अपनाकर आप भी लंबी उम्र तथा अच्छा स्वास्थ्य पा सकते हैं। आइये जानते हैं इन उपदेशों के बारे में। 

प्रतीकात्मक

 

  1. मन को हमेशा वश में रखना चाहिए। 
  2.  कभी घमंड नहीं करना चाहिए। 
  3. अपनी बढ़ती इच्छाओं को रोकना चाहिए। 
  4. कड़वी बातों का कभी उत्तर नहीं देना चाहिए। 
  5. लाचार व्यक्ति तथा अतिथि को सदैव आश्रय देना चाहिए। 
  6. अपने शास्त्रों का अध्ययन करना चाहिए। 
  7. दिन में कभी नहीं सोना चाहिए। 
  8. सदैव दूसरों को आदर सम्मान देना चाहिए। 
  9. क्रोध के वशीभूत नहीं रहना चाहिए। 
  10. भोजन को स्वाद के लिए नहीं बल्कि स्वास्थ्य के लिए करना चाहिए।