+

आंखों की रोशनी, कैंसर जैसे अनगिनत रोगों से बचाता है गाजर

सर्दियों के मौसम में गाजर को बेस्‍ट माना जाता है, इस मौसम में सब्‍जियों की तमाम वैराएटी मिलती है, इनमें जो सब्‍जी बेहद खास है वह है गाजर। गाजर को सब्‍जी, सलाद, जूस या सूप हर तरह से डाइट में शामिल किया जाता है, इसके अलाबा भारत के लोग गाजर का हल्‍वा कितना पसंद करते हैं ये आप सभी जानते है।  इसके साथ -साथ शास्त्रों में गाजर को एक औषध‍िय भी माना गया है 

प्रतीकात्मक

 

आयुर्वेद में तो गाजर से कई रोगों का इलाज भी होता है। गाजर में भरपूर मात्रा में कैरीटोनॉइड, पोटैश‍ियम, विटामिन A और विटामिन E जैसे ढेरों पोषक तत्‍व पाए जाते हैं, जो हमारी शरीर की इम्‍यूनिटी बढ़ाकर हमें गंभीर बीमारियों से बचाते हैं।  अगर आप भी उन लोगों में शामिल हैं जो गाजर को भाव देना पसंद नहीं करते तो एक बार इसके गुणों के बारे में जरूर जान लीजिए।  

 गाजर एक ऐसी सब्‍जी है जो हमें कैंसर जैसी जानलेवा बीमारी से बचाने में बहुत मददगार है।  गाजर खाने से कैंसर सेल विकसित नहीं हो पाते हैं, गाजर में भरपूर मात्रा में कैरीटोनॉइड पाया जाता है, जो शरीर की इम्‍यूनिटी बढ़ाकर बीमारियों से लड़ने की ताकत देता है।   इसमें मौजूद बीटा-कैरोटीन प्रोस्‍टेट और ब्रेस्‍ट कैंसर से बचाव करते हैं।  

प्रतीकात्मक

 

लगातार गाजर का सेवन दिल को स्वस्थ रखता है।  दरअसल, गाजर में भरपूर मात्रा में बीटा-कैरोटीन, अल्‍फा-कैरोटीन और लुटेइन जैसे एंटीऑक्‍सीडेंट पाए जाते हैं, जो कॉलेस्‍ट्रोल लेवल बढ़ने नहीं देते और हार्ट अटैक के खतरे को कम कर देते हैं।  दिल की कमजोरी और हार्ट बीट बढ़ने पर गाजर को भूनकर खाने से फायदा होता है। 

गाजर आपके शरीर के बीपी यानी कि ब्‍लड प्रेशर को काफी हद तक कंट्रोल में रख सकता है।  इसमें मौजूद पोटैश‍ियम ब्‍लड प्रेशर को घटने या बढ़ने नहीं देता। 

गाजर खाने से गठिया, पीलिया और अपच यानी कि इनडाइजेशन से छुटकारा पाया जा सकता है , गाजर हड्डियों को मजबूत करने के साथ-साथ पेट में गड़बड़ी और गैस की श‍िकायत को दूर करता है,  यही नहीं यह पेट की सफाई करने का काम भी करता है।  पीलिया के मरीजों को रोजाना गाजर खाने की सलाह दी जाती है। 

प्रतीकात्मक

 

गाजर में आयरन की अच्‍छी-खासी मात्रा होती है,  इसमें विटाइमिन E भी पाया जाता है जो नया खून बनाने में काफी मददगार है, यही कारण है कि एनीमिया के मरीजों को सलाह दी जाती है कि वे गाजर को जरूर अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं, पीरियड्स के दौरान महिलाओं को गाजर जरूरी खानी चाहिए,  गाजर में मौजूद बीटा कैरोटीन पीरियड्स के दौरान हेवी ब्‍लड फ्लो को कम करने में मदद करता है। 

गाजर  विटामिन A का मुख़्य श्रोत है इसी कारण आंखों की अच्‍छी सेहत के लिए विटामिन A बहुत ही जरूरी है , यही नहीं गाजर में मौजूद बीटा कैरोटीन मोतियाबिंद से आंखों की रक्षा कर उनकी देखभाल करता है. जिन लोगों की नजर कमजोर होती है उन्‍हें रोजाना गाजर खाने की सलाह दी जाती है। 

गाजर पेट की समस्‍याओं को दूर कर खून की सफाई करता है. जाहिर है कि ऐसे में स्‍किन भी अच्‍छी रहेगी और कील-मुंहासों से छुटकारा मिल जाएगा।