+

रिसर्च - अंगूर का करें सेवन, महज 48 घंटे में सही होगा कैंसर रोग

कैंसर एक ऐसा रोग है। जिसका नाम सुनते ही बड़े बड़े लोगों के पसीने छूटने लगते हैं। आज के समय में कैंसर तेजी से फैलता जा रहा है। अतः सभी को इससे सावधान रहने की आवश्यकता है। पहली बात तो यही है की कैंसर का इलाज हर स्थान पर मौजूद नहीं होता है दूसरी बात यह भी है की इस रोग का इलाज जहां है वहां बहुत महंगा है अतः आर्थिक रूप से कमजोर व्यक्ति ईलाज नहीं करा पाते हैं। ऐसी स्थिति में अमेरिका में हुआ एक शोध कैंसर के मरीजों के लिए आशा की नई किरण लेकर आया है। इस रिसर्च में यह पाया गया है की कैंसर अंगूर के बीजों से पूरी तरह से सही हो सकता है। ये इतने कारगर होते हैं की 48 घंटे के अंदर ही अच्छे नतीजे सामने आ जाते हैं। 

प्रतीकात्मक

कैलिफ़ोर्निया यूनिवर्सिटी में हुई इस रिसर्च में यह खुलासा हुआ है की यदि कैंसर के रोगी को अंगूरों के रस का सेवन कराया जाये तो तेजी से इसके अच्छे परिणाम दिखाई देने लगते हैं। कैलिफ़ोर्निया यूनिवर्सिटी के डॉ हार्डिन ने इस शोध के बारे में बताया की "यह शोध करीब 25 वर्ष से चल रहा था और इसमें यह पता लगा की अंगूरों के बीजों का रस इस रोग में बहुत कारगर होता है। यह इतनी जल्दी कार्य कर रहा था की हमें 48 घंटो में ही नतीजे दिखाई पड़ने लगे थे। अंगूरों के बीज का अर्क ब्लड कैंसर सहित अन्य कई प्रकार के कैंसर पर लाभदायक होता है। इसमें जेएनके प्रोटीन पाया जाता है जो 76 फीसदी कैंसर कोशिकाओं को निष्प्रभावी बना देता है। यदि चिकित्सक की सलाह से इसका सेवन किया जाए तो यह महज 48 घंटों में अच्छे नतीजे देने लगता है।" इस प्रकार से देखा जाए तो अंगूर के बीज का रस कैंसर के मरीज के लिए बहुत लाभदायक होता है और उसको जल्दी ही स्वस्थ बना सकने में समर्थ भी है।