+

टीम इंडिया की ऐतिहासिक जीत, ऑस्ट्रेलिया को137 रन से हराया

रविवार को बॉक्सिंग-डे टेस्ट में भारत ने ऑस्ट्रेलिया को 137 रन से हराकर जहां इतिहास रचा वहीं भारत ने  बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी पर कब्जा बरकरार रखा है। यह टीम इंडिया की 150वीं टेस्ट जीत रही।

प्रतीकात्मक

 

इससे पहले टीम इंडिया ने 1981 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मेलबर्न में जीत दर्ज की थी। इसी के साथ टीम इंडिया ने चार मैचों की सीरीज में 2-1 की अजेय बढ़त हासिल कर ली है।

सीरीज का चौथा व अंतिम टेस्ट 3 जनवरी से सिडनी में शुरू होगा। मौजूदा दौरे पर टीम इंडिया की यह दूसरी जीत है। इससे पहले विराट सेना ने एडिलेड टेस्ट 31 रन से जीता था। ऑस्ट्रेलियाई धरती पर टीम इंडिया ने सातवीं जीत दर्ज की। 

टीम इंडिया ने ऑस्ट्रेलिया के सामने 399 रन का लक्ष्य रखा था, जिसके जवाब में मेजबान टीम पांचवें दिन 261 रन पर ऑलआउट हुई। कंगारू टीम के लिए पैट कमिंस (63) सर्वश्रेष्ठ स्कोरर रहे। इसके अलावा शॉन मार्श (44) ने थोड़ा संघर्ष किया। वहीं टीम इंडिया की तरफ से जसप्रीत बुमराह और रवींद्र जडेजा ने तीन-तीन जबकि मोहम्मद शमी और इशांत शर्मा ने दो-दो विकेट लिए।

प्रतीकात्मक

 

बता दें कि टीम इंडिया को अंतिम दिन जीतने के लिए दो विकेट की दरकार थी। इशांत शर्मा और जसप्रीत बुमराह ने छह ओवर के भीतर पैट कमिंस (63) और नाथन लियोन (7) को आउट करके टीम इंडिया की ऐतिहासिक जीत पर मुहर लगाई। मेजबान टीम अपने कल के स्कोर में तीन रन का इजाफा कर सकी। 

बता दें कि मेलबर्न में रविवार को बारिश के कारण शुरुआती दो सेशन का मैच नहीं खेला जा सका। लंच के बाद मुकाबला शुरू हुआ और टीम इंडिया ने इसका फायदा उठाते हुए मुकाबला जीता।

जसप्रीत बुमराह ने टीम इंडिया को दिन की पहली सफलता दिलाई। उन्होंने कमिंस को पुजारा के हाथों कैच आउट कराया। इसके बाद इशांत शर्मा ने लियोन को विकेटकीपर पंत के हाथों कैच आउट कराकर भारतीय क्रिकेट फैंस को नए साल का तोहफा दिया। इसी के साथ ऋषभ पंत एक टेस्ट सीरीज में सबसे ज्यादा शिकार करने वाले भारतीय विकेटकीपर बन गए हैं। पंत ने मौजूदा सीरीज में 20 शिकार किए।