+

पाकिस्तान के एक हिन्दू मंदिर में तोड़फोड़ के साथ पवित्र ग्रंथों में लगाई आग

हमारे पड़ोसी देश पाकिस्तान के सिंध प्रांत से कुछ असमाजिक तत्वों द्वारा हिन्दू मंदिर में तोड़फोड़ की घटना सामने आई है। बताया जा रहा है कि पिछले सप्ताह सिंध प्रांत की इस मंदिर में मूर्तियों को भी तोड़ दिया गया और वहां रखे पवित्र ग्रंथों को भी आग के हवाले किया गया। यह घटना खैरपुर जिले के कुंब शहर की है। 

प्रतीकात्मक

 

पीएम इमरान खान ने दिए अपराधियों को जल्द पकड़ने के निर्देश

जानकारी के मुताबिक यह अज्ञात हमलावर मंदिर में तोड़फोड़ करने के बाद फरार हो गए थे। वहीँ प्रधानमंत्री इमरान खान ने इस घटना पर कड़ी प्रतिक्रिया जताई। उन्होंने कहा कि दोषियों के खिलाफ जल्द ही ठोस कार्यवाई हो। पीएम इमरान खान ने मंगलवार को ट्वीटर पर सिंध प्रांत के प्रशासन के उन दोषियों के खिलाफ तेजी से कार्यवाई करने को कहा। साथ ही उन्होंने कहा कि यह कुरान की शिक्षा के खिलाफ है। 

प्रतीकात्मक

 

स्थानीय हिन्दू समुदाय के लोगों ने जमकर किया प्रदर्शन

वहीँ इस घटना के बाद स्थानीय हिन्दू समुदाय में खासी नाराजगी है। पाकिस्तानी मीडिया के मुताबिक इलाके के हिन्दुओं ने इस पर विरोध जताते हुए जमकर प्रदर्शन भी किया। साथ ही लोगों ने उन अज्ञात हमलावरों के खिलाफ पुलिस में मामला भी दर्ज करवाया है। 

प्रतीकात्मक

 

पकिस्तान हिन्दू परिषद् ने की मंदिरों की सुरक्षा बढ़ाने की मांग

इस मामले पर पकिस्तान हिन्दू परिषद के सलाहकार राजेश कुमार हरदसानी का कहना है कि इस घटना से हिन्दू समुदाय के बीच अशांति पैदा हो गई है। इस तरह के हमले देशभर में धार्मिक तौर पर माहौल बिगाड़ने के लिए किए जाते हैं। हरदसानी ने हिन्दू मंदिरों की सुरक्षा के लिए एक विशेष कार्य बल गठित करने की भी मांग की है। 

जानकारी मिली है कि जिस हिन्दू मंदिर में यह घटना हुई वह हिन्दू समुदाय के लोगों के घरों के पास ही था, इसलिए मंदिर की देखभाल के लिए किसी को नहीं रखा गया था। वहीँ मामले को लेकर स्थानीय पुलिस का कहना है कि वो हमलावरों की तलाश में है। अभी किसी भी व्यक्ति या समूह ने हमले की जिम्मेदारी भी नहीं है।