+

करतारपुर कॉरिडोर की चल रही तैयारी, बिन वीजा के भी कर सकेंगे दर्शन

अप्रैल 2019 में श्री गुरु नानक देव जी का 550वां प्रकाश पर्व मनाया जाएगा। इस उपलक्ष में नानक देव जी की जन्मस्थली श्री ननकाना साहिब तक एक सुरंग बनाई जा रही है, जिससे भारत में रहने वाले सिक्ख श्रद्धालु भी गुरुद्वारा श्री ननकाना साहिब के दर्शन के लिए पहुंच सकेंगे। नानक देव जी के 550वें प्रकाश पर्व पर पकिस्तान सरकार द्वारा ननकाना साहिब रेलवे स्टेशन से लेकर गुरूद्वारे तक एक विशेष सुरंग का निर्माण किया जा रहा है। इसके साथ ही संगत के लिए श्रद्धालुओं को श्री ननकाना साहिब में कई सुविधाएं भी दी जाएंगी। 

प्रतीकात्मक

 

19 सदस्यों की टीम पहुंची थी पकिस्तान

इस बात की जानकारी डॉ. दीपक मनमोहन सिंह ने दी। डॉ. दीपक मनमोहन सिंह उस 19 सदस्यीय शिष्टमंडल का हिस्सा थे, जो लाहौर में 1 फरवरी से आयोजित तीन दिवसीय विश्व पंजाबी अमन कॉन्फ्रेंस में शामिल हुए थे। मंगलवार को यह शिष्टमंडल लाहौर से सड़क सीमा के द्वारा अटारी बार्डर के रास्ते वतन लौट आये हैं। 

डॉ. दीपक मनमोहन सिंह ने बताया कि जब शिष्टमंडल गुरुद्वारा श्री ननकाना साहिब के दर्शन के लिए पहुंचा तो उनका स्वागत वहां के डीसी राजा मंसूर अहमद ने किया। मंसूर अहमद ने उन्हें बताया कि बाबा नानक देव जी के 550वें प्रकाश पर्व को देखते हुए श्री ननकाना साहिब के विकास में कोई कमी नहीं रखी जा रही है। ननकाना साहिब में नानक देव जी के नाम पर यूनिवर्सिटी की स्थापना करने के लिए 51 एकड़ भूमि भी खरीद ली गई है।

प्रतीकात्मक

 

बिना वीजा के भी कर सकेंगे ननकाना साहिब के दर्शन

वहीँ इस तीन दिवसीय विश्व पंजाबी अमन कॉन्फ्रेंस में सम्मिलित प्रो. हरभजन सिंह गिल ने बताया कि पाक पीएम इमरान खान द्वारा वीजा न होने पर भी श्री ननकाना साहिब के दर्शन-दीदार की मंजूरी दे दी गई है। इसके बाद शिष्टमंडल में शामिल सभी लोगों ने गुरुद्वारा श्री ननकाना साहिब में आपसी भाईचारे तथा अमन-दोस्ती के लिए अरदास भी की।